Thursday, July 25, 2024
30.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeIndiaNarendra Modi to visit Russia: जानें क्रेमलिन ने क्यों कहा...ये पश्चिमी देश...

Narendra Modi to visit Russia: जानें क्रेमलिन ने क्यों कहा…ये पश्चिमी देश जलता है मोदी की रूस यात्रा से

Google News
Google News

- Advertisement -

Prime Minister Narendra Modi will in Russia on Monday to attend the 22nd India-Russia summit scheduled on July 8 and 9: नरेन्द्र मोदी की मॉस्को यात्रा (Narendra Modi to visit Russia) को लेकर रूसी प्रधानमंत्री काफी उत्सुक हैं। वह इस यात्रा को रूस और भारत के संबंधों के लिए बेहद महत्वपूर्ण मानते हैं। रूस के राष्ट्रपति के आधिकारिक आवास एवं कार्यालय ‘क्रेमलिन’ के प्रवक्ता दिमित्री पेस्कोव ने यह बात कही।

Narendra Modi to visit Russia: 22वें भारत-रूस शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे मोदी

पेस्कोव ने यह भी दावा किया कि पश्चिमी देश इस यात्रा (Narendra Modi to visit Russia) को ‘ईर्ष्या’ से देख रहे हैं। रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के निमंत्रण पर प्रधानमंत्री मोदी 22वें भारत-रूस वार्षिक शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। वह 8 और 9 जुलाई को मॉस्को में रहेंगे। विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को नई दिल्ली में इस उच्च स्तरीय यात्रा के बारे में जानकारी दी थी। उन्होंने कहा था कि दोनों नेता दोनों देशों के बीच बहुआयामी संबंधों की संपूर्ण समीक्षा करेंगे और आपसी हितों के समकालीन क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर विचार-विमर्श करेंगे।

अनौपचारिक बातचीत भी होगी

पेस्कोव ने रूस के सरकारी टेलीविजन ‘वीजीटीआरके’ के साथ साक्षात्कार में कहा कि मॉस्को में दोनों नेता अन्य कार्यक्रमों के अलावा अनौपचारिक बातचीत भी करेंगे। जाहिर है कि अगर इसे अति व्यस्त न भी कहा जाए तो भी एजेंडा व्यापक होगा। यह एक आधिकारिक यात्रा (Narendra Modi to visit Russia) होगी और हमें उम्मीद है कि दोनों नेता अनौपचारिक तरीके से भी बातचीत कर सकेंगे।

पश्चिमी देश को नहीं भा रहा

पेस्कोव ने कहा कि रूस और भारत के बीच संबंध रणनीतिक साझेदारी के स्तर पर हैं। सरकारी समाचार एजेंसी ‘तास’ ने पेस्कोव के हवाले से कहा कि हम एक अति महत्वपूर्ण यात्रा (Narendra Modi to visit Russia) की उम्मीद कर रहे हैं जो रूस-भारत संबंधों के लिए बहुत अहम है। पेस्कोव ने इस बात पर भी जोर दिया कि पश्चिमी देश प्रधानमंत्री मोदी की आगामी रूस यात्रा पर ‘करीब से और ईर्ष्या से नजर रख रहे हैं।’

मोदी की रूस यात्रा के प्रति पश्चिमी देशों के राजनेताओं के रवैये के बारे में पूछे गए सवाल के जवाब में पेस्कोव ने कहा कि वे ईर्ष्यालु हैं, इसका मतलब है कि वे इस पर करीब से नजर रख रहे हैं। उनकी करीबी निगरानी का मतलब है कि वे इसे बहुत महत्व देते हैं।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

Haryana Congress: हुड्डा ने क्यों कहा, नॉन स्टॉप नहीं फुल स्टॉप हरियाणा

कांग्रेस (Haryana Congress: ) नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा है कि नायब सिंह सैनी सरकार को अपने नान-स्टाप हरियाणा नारे को फुल स्टाप...

31 जुलाई 2024 तक फसलों का बीमा कराएं किसान: उपायुक्त विक्रम सिंह

फरीदाबाद, 24 जुलाई- प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना खरीफ 2024 की बीमा कराने की अंतिम तिथि 31 जुलाई 2024 है। जिसमें बीमा पंजीकृत करवाने...

समाधान शिविर में लोगों ने रखी शिकायतें

देश रोजाना, हथीन- लघु सचिवालय हथीन में लगाए गए समाधान शिविर में लोगों ने शिकायतें रखीं। पहाड़ी गांव निवासी शिव सिंह ने परिवार पहचान...

Recent Comments