Wednesday, July 24, 2024
28.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeLATESTरेवाड़ी में नोटों का हार पहनाकर की गाय की विदाई

रेवाड़ी में नोटों का हार पहनाकर की गाय की विदाई

Google News
Google News

- Advertisement -

-1.88 लाख में खरीदी, देती है पूरा 21 लीटर दूध


रेवाड़ी। जिले के गांव बव्वा में एक गाय की विदाई हूबहू बेटी की विदाई की तरह की गई। इस गाय को 1 लाख 88 हजार रुपए में जींद जिले के अजय ने खरीदा है। इसकी खासियत ये है कि हरियाणा नस्ल की ये गाय 5-10 नहीं, बल्कि एक बार में पूरे 21 लीटर दूध देती है । अममून इस नस्ल की 90% गाय 10 से 12 लीटर ही दूध देती है।
देखने में बहुत सुंदर, दूध देने की क्षमता भी ज्यादा गांव बव्वा निवासी पशु पालक सोनू ने बताया कि उसके परिवार ने इस गाय को बेटी की तरह दुलार दिया। उनकी गाय की खूबी यह है कि ये देखने में अति सुंदर, इसकी हाइट अन्य गायों के मुकाबले कहीं ज्यादा और दूध देने की क्षमता भी काफी ज्यादा है। गाय को बेचने का कोई इरादा नहीं था। लेकिन कुरुक्षेत्र मेले में अजय से हुई मुलाकात के बाद दोस्ती बढ़ गई और फिर अजय को ये गाय पसंद आई तो उसे दे दिया।
पशु पालक सोनू बताते है कि उसके पास वैसे तो गिर नस्ल की दो और भी गाय है, लेकिन हरियाणा नस्ल की इस गाय का कर्ज वह कभी नहीं चुका सकते। इस गाय माता ने उसे बहुत कुछ दिया। दो दिन पहले जींद जिले के गांव दोरड़ निवासी अजय गाय खरीदने के लिए रेवाड़ी में आया था। लेकिन उसे कोई गाय पसंद नहीं आई। इसके बाद दोस्ती के नाते अजय उसके घर आया तो उसे ये गाय पसंद आ गया। अजय के सामने ही उसने पूरे 21 लीटर दूध निकालकर दिखाया।
नोटों की माला पहनाकर विदा किया:
इसके बाद अजय ने गाय को 1 लाख 88 हजार रुपए में खरीद दिया। सोनू का कहना है कि वैसे तो कई बार पहले भी लाखों रुपए में पहले भी गायें बिकी है। लेकिन उनकी गाय की कोई कीमत नहीं है। ये मेरे लिए अनमोल चीज रही है। अमूमन हरियाणा नस्ल की इस प्रकार की गाय बहुत कम ही देखने को मिलती है। सोनू के पूरे परिवार ने बेटी की तरह गाय की विदाई की। उसके गले में नोटों की माला पहनाई। इस दौरान गांव की सरपंच सुनीता के अलावा ग्रामीण भी इस पल के गवाह बने सोनू के पास एक गिर नस्ल की बछिया भी है, जिसकी कीमत 1 लाख रुपए लग चुकी है।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

Recent Comments