Wednesday, July 24, 2024
33.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeLATESTSkincare In Monsoon : मानसून में भी त्वचा का ख्याल जरूरी

Skincare In Monsoon : मानसून में भी त्वचा का ख्याल जरूरी

Google News
Google News

- Advertisement -

Skincare In Monsoon : मानसून की बारिश में गर्मी से तो राहत मिल जाती है लेकिन इस मौसम में कई प्रकार के स्किन प्राब्लम्स भी आपको परेशान कर सकते हैं। इस मौसम में नमी के कारण जो खुले हुए रोम छिद्र होते हैं उनमे इन्फेक्शन होने का खतरा बढ़ जाता है। वर्तमान समय में सेल्फ केयर कर के आप अपने स्कीन को डैमेज होने से बचा सकते हैं।  बारिश में स्कीन का एक्स्ट्रा ख्याल रखना बहुत जरूरी होता है। ऐसे में कुछ बातों का ध्यान रखकर स्किन प्राब्लम्स से बच सकते हैं।

Skincare In Monsoon : जेल आधारित माइस्चराइजर का करें चुनाव

त्वचा की नमी को प्राथमिकता देना महत्वपूर्ण है। कोमल त्वचा बनाए रखने के लिए हल्के, नान-ग्रीसी माइस्चराइज़र का चुनाव करें। एलोवेरा, विटामिन-ई, ग्लिसरीन या खीरे जैसे हाइड्रेटिंग तत्वों वाले जेल-आधारित माइस्चराइज़र का चुनाव करना अच्छा है। यह त्वचा को पोषण दे सकता है। ये तत्व छिद्रों को बंद किए बिना त्वचा को प्रभावी रूप से नमी प्रदान करते हैं, जिससे त्वचा में निखार आता है।

Skincare In Monsoon :पानी पीने में न करें कमी

मानसून के दौरान अक्सर कई लोगों का पानी पीना कम कर देते हैं। इस समय ठंडे मौसम के बावजूद पसीना आता है। इसलिए बारिश के मौसम में भी पर्याप्त पानी पीना जरूरी है।

 Sunscreen In Monsoon: सनस्क्रीन है जरूरी

बादलों के बीच से भी हानिकारक यूवी किरणें त्वचा को प्रभावित कर सकती हैं। आपकी त्वचा की देखभाल के लिए सनस्क्रीन लगाना जरूरी है। कम से कम 30 SPF वाला ब्रॉड-स्पेक्ट्रम सनस्क्रीन चुनें। इसके अलावा, हर कुछ घंटों में सनस्क्रीन को फिर से लगाएं। अगर आप घर पर ही हैं, तो भी अपनी त्वचा पर सनस्क्रीन लगाना बिल्कुल न भूलें।

त्वचा विशेषज्ञ से लें परामर्श

इस मौसम में औषधीय साबुन, एंटीफंगल और एंटी बैक्टीरियल क्रीम और पाउडर का उपयोग सहायक हो सकता है। यदि आपको किसी विशेष तरह का संक्रमण या स्किन कंडीशन है, तो त्वचा विशेषज्ञ से परामर्श करें, स्वयं इलाज शुरू कर देना आपकी स्थिति को खराब कर सकता है।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

Jammu-Kashmir: कुपवाड़ा मुठभेड़ में एक आतंकवादी ढेर, एक जवान शहीद

जम्मू कश्मीर(Jammu-Kashmir: ) के कुपवाड़ा जिले में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच रातभर मुठभेड़ हुई, जिसमें एक आतंकवादी मारा गया और एक जवान...

Nepal Plane Crash: काठमांडू में विमान दुर्घटनाग्रस्त, 18 लोगों की मौत

बुधवार सुबह काठमांडू में त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उड़ान भरने के दौरान एक निजी एयरलाइन का विमान दुर्घटनाग्रस्त(Nepal Plane Crash: ) हो गया...

31 जुलाई 2024 तक फसलों का बीमा कराएं किसान: उपायुक्त विक्रम सिंह

फरीदाबाद, 24 जुलाई- प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना खरीफ 2024 की बीमा कराने की अंतिम तिथि 31 जुलाई 2024 है। जिसमें बीमा पंजीकृत करवाने...

Recent Comments