Tuesday, April 23, 2024
25.7 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeIndiaएलिमिनेटर मैच में धांसू गेंदबाजी से सुर्खियों में छाएं मधवाल

एलिमिनेटर मैच में धांसू गेंदबाजी से सुर्खियों में छाएं मधवाल

Google News
Google News

- Advertisement -

आईपीएल 2023 के एलिमिनेटर मैच में मुंबई की जीत में सबसे अहम योगदान युवा तेज गेंदबाज आकाश मधवाल का रहा। उन्होंने 3.3 ओवर में पांच रन देकर पांच महत्वपूर्ण विकेट झटके। इस सीजन आईपीएल डेब्यू करने वाले आकाश ने एलिमिनेटर जैसे अहम मुकाबले में प्रेरक मांकड़, आयुष बदोनी, निकोलस पूरन, रवि बिश्नोई और मोहसिन खान का विकेट लेकर यह साबित कर दिया कि उनमें आगे बढ़ने की काफी काबिलियत है। इसके बाद तो वह सुर्खियों में छा गए हैं।
सिर्फ इस मैच में नहीं आकाश ने इस पूरे सीजन अपनी रॉ पेस और घातक यॉर्कर से काफी प्रभावित किया है। वह इस सीजन सात मैचों में 7.77 की इकॉनमी और 9.92 के स्ट्राइक रेट से 13 विकेट ले चुके हैं। आकाश ने अपनी गेंदबाजी से जसप्रीत बुमराह की कमी नहीं खलने दी है। आकाश लगातार 140+ की स्पीड से यॉर्कर फेंकने में माहिर हैं। बुधवार को एलिमिनेटर में उन्होंने लखनऊ के बल्लेबाजों को इसी तरह परेशान किया। लखनऊ के खिलाफ मैच के बाद मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा ने भी आकाश की खूब तारीफ की।


उन्होंने कहा- आकाश पिछले साल एक सहायक गेंदबाज के रूप में टीम का हिस्सा थे। इस सीजन एक बार जोफ्रा आर्चर टीम से बाहर हुए तो मुझे पता था कि आकाश के पास टीम में योगदान देने के स्किल्स हैं। पिछले कुछ वर्षों में हमने कई लोगों को मुंबई इंडियंस से आते और भारत के लिए खेलते देखा है। हमें जरूरत है कि हम युवा खिलाड़ियों को स्पेशल और टीम का हिस्सा महसूस कराएं। मेरा काम सिर्फ मैच के दौरान सहज महसूस कराना है। वे अपनी भूमिकाओं को लेकर बहुत स्पष्ट हैं कि उन्हें टीम के लिए क्या करना है और आप यही चाहते हैं।
जैसा की रोहित ने कहा पिछले साल ही आकाश को मुंबई ने अपने स्क्वॉड में शामिल किया था। उन्हें सूर्यकुमार यादव के चोटिल होने पर टीम से जोड़ा गया था। हालांकि, पिछले सीजन उन्हें कोई मैच खेलने का मौका नहीं मिला। पर इस सीजन जसप्रीत बुमराह और फिर जोफ्रा आर्चर के चोटिल होने पर आकाश को खेलने का मौका मिला और 29 साल के इस युवा तेज गेंदबाज ने उस मौके को दोनों हाथों से भुनाया। आकाश उत्तराखंड के रहने वाले हैं और उत्तराखंड की टीम से ही घरेलू क्रिकेट खेलते हैं। वह आईपीएल खेलने वाले उत्तराखंड टीम के पहले खिलाड़ी हैं। ऋषभ पंत दिल्ली से घरेलू क्रिकेट खेलते हैं।


आकाश का जन्म 25 नवंबर 1993 को हुआ था। उन्होंने 2013 में एक त्रासदी में अपने पिता को खो दिया था, जो भारतीय सेना में थे।। बचपन से आकाश को क्रिकेट खेलने का बेहद शौक था, लेकिन उन्होंने इसे छोड़ इंजीनियरिंग करने का फैसला किया। इंजीनियरिंग के दौरान आकाश सिर्फ टेनिस बॉल से खेलते रहे। इंजीनियरिंग के बाद आकाश ने क्रिकेट में करियर बनाने का फैसला लिया। 24 साल की उम्र तक आकाश ने सिर्फ टेनिस बॉल से खेलते रहे थे और लेदर बॉल को हाथ तक नहीं लगाया था। 2019 में एक बार वह उत्तराखंड के ट्रायल के लिए गए। तब उन्होंने उत्तराखंड के तत्कालीन कोच और पूर्व भारतीय ओपनर वसीम जाफर का ध्यान अपनी ओर खींचा था। इसके बाद मौजूदा कोच मनीष झा भी उनसे काफी प्रभावित हुए। मनीष ने उन्हें टीम में शामिल किया और अपनी देखरेख में आकाश को ग्रूम करने लगे। टेनिस बॉल खेलते रहने की वजह से आकाश के पास पेस थी, लेकिन उन्हें लेदर बॉल से प्रैक्टिस की जरूरत थी।
बहुत कम लोग जानते होंगे कि रुड़की के ढंडेरा के रहने वाले आकाश का भारत के स्टार विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत से खास कनेक्शन है। आकाश पंत के पड़ोसी हैं। पंत की तरह आकाश को भी अवतार सिंह ने ट्रेनिंग दी है। एक अखबार को दिए गए इंटरव्यू में अवतार ने बताया था कि आकाश का घर पंत के घर के सामने है। दिवंगत तारक सिन्हा सर के साथ ट्रेनिंग के लिए दिल्ली जाने से पहले ऋषभ मेरे नेतृत्व में खेले। अब आकाश ने पंत की तरह उत्तराखंड का नाम रोशन किया है। आकाश ने उत्तराखंड के लिए 10 फर्स्ट क्लास मैचों में 12 विकेट, 17 लिस्ट-ए मैचों में 18 विकेट लिए हैं। घरेलू टी20 और आईपीएल मिलाकर आकाश ने टी20 करियर में 29 मैचों में 37 विकेट लिए हैं।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

Recent Comments