Thursday, April 18, 2024
35.2 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeIndiaगिल ने अपनी खामियों पर काम किया, शॉ ने नहीं

गिल ने अपनी खामियों पर काम किया, शॉ ने नहीं

Google News
Google News

- Advertisement -

आईपीएल 2023 में गुजरात टाइटंस के शुभमन गिल शानदार फॉर्म में हैं। वह पहली बार 2018 में चर्चा में आये थे, जब उन्होंने उस साल हुए अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारत को खिताब जिताने में अहम योगदान दिया था। उस भारतीय अंडर-19 टीम से शुभमन के अलावा पृथ्वी शॉ भी खूब चर्चा में आए थे। उनकी टीम इंडिया में एंट्री भी हुई, लेकिन खराब फॉर्म की वजह से पृथ्वी ने अपनी जगह गंवा दी। दूसरी तरफ शुभमन गुजरात के साथ-साथ भारतीय टीम का एक अभिन्न हिस्सा बन चुके हैं।


शुभमन के बचपन के कोच ने पृथ्वी शॉ पर निशाना साधा है। एक न्यूज एजेंसी को दिए इंटरव्यू में शुभमन के बचपन के कोच कर्सन घावरी ने कहा- पृथ्वी उसी टीम में थे जिसने 2018 में अंडर-19 विश्व कप जीता था, है ना? आज पृथ्वी शॉ कहां हैं और शुभमन गिल कहां हैं? वे दो अलग-अलग श्रेणियों में हैं। शॉ को लगता है कि वह एक स्टार हैं और उन्हें कोई छू नहीं सकता। लेकिन उन्हें यह समझने की जरूरत है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर, भले ही आप टी20, 50 ओवर या टेस्ट मैच या यहां तक कि रणजी ट्रॉफी खेल रहे हों, आपको आउट करने के लिए केवल एक ही गेंद की जरूरत होती है।
11 साल की उम्र में गिल को कोचिंग देने वाले घावरी ने कहा कि उच्चतम स्तर पर उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए अनुशासन और स्वभाव की आवश्यकता होती है। घावरी ने कहा, “आपको अनुशासन और अच्छे मिजाज की जरूरत है। आपको लगातार खुद पर काम करने की जरूरत है। आपको क्रीज पर टिके रहने की जरूरत है और अगर आप ऐसा करते हैं, तो आप अधिक रन बना सकेंगे।”


पृथ्वी को यह सुझाव देते हुए कि अभी सब कुछ खत्म नहीं हुआ है, घावरी चाहते हैं कि वह अपनी खामियों पर काम करें, कड़ी मेहनत करें और भविष्य में एक मजबूत खिलाड़ी के रूप में उभरें। उन्होंने कहा- शुभमन और शॉ एक ही उम्र के हैं। अभी तक शॉ ने कुछ भी नहीं खोया है। गिल ने अपनी खामियों पर काम किया है, जबकि शॉ ने नहीं किया। वह अभी भी कर सकते हैं। उन्हें कड़ी मेहनत करने की जरूरत है। नहीं तो इतनी क्षमता होने का कोई मतलब नहीं है।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

Recent Comments