Monday, May 27, 2024
44.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeIndiaआदिपुरुष के खिलाफ अब दिल्ली हाई कोर्ट में दायर की गई याचिका,...

आदिपुरुष के खिलाफ अब दिल्ली हाई कोर्ट में दायर की गई याचिका, फ़िल्म के डायलॉग्स को लेकर विवाद

Google News
Google News

- Advertisement -

आदिपुरुष : 16 जून को रिलीज़ हुई फिल्म आदिपुरुष एक बार फिर विवादों में घिर गई है। फ़िल्म के डायलॉग्स को लेकर दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर करके फ़िल्म के बैन के लिए अपील की गई है। दरअसल हिन्दू सेना के राष्ट्रिय अध्यक्ष विष्णु गुप्ता ने आरोप लगाए और फिल्म के कई सीन, डायलॉग्स और किरदारों को हटाने की मांग की है। विष्णु गुप्ता ने अपनी याचिका में कहा फिल्म में आपत्तिजनक तरीके के डायलॉग्स का प्रयोग किया गया है और हमारे आराध्य देवताओं का चित्रण गलत तरीके से किया गया है, जो कि सही नहीं है। इसलिए ऐसी फिल्म की स्क्रीनिंग पर तुरंत रोक लगनी चाहिए।

पौराणिक कथा की मर्यादा को किया तार-तार
फिल्म के डायलॉग्स को लेकर फिल्म के राइटर और डायरेक्टर को भी काफी ट्रोलिंग का शिकार होना पड़ रहा है। सोशल मीडिया पर भी फिल्म को लेकर बॉयकॉट का ट्रेंड भी हो रहा है। लोगों का कहना है कि फिल्म में रामायण को मॉडर्न तरीके से दिखाकर इस ऐतिहासिक पौराणिक कथा को तार-तार किया गया है।

कॉन्ट्रोवर्शियल डायलॉग्स जिन पर लोगों ने जताई आपत्ति

  • इंद्रजीत ने हनुमान से कहा, ‘ तेरी बुआ का बगीचा है क्या जो हवा खाने चला गया। ‘
  • रावण के सभा में हनुमान जी ने कहा, ‘ जो हमारी बहनों को हाथ लगाएगा उसकी हम लंका लगा देंगे। ‘
  • हुनमान जी ने रावण के बेटे इंद्रजीत से कहा, ‘ कपड़ा तेरे बाप का, तेल तेरे बाप का और जलेगी भी तेरे बाप की। ‘
  • विभीषण ने रावण से कहा, ‘ आप स्वयं अपने काल के लिए कालीन बिछा रहे हैं। ‘
  • लक्ष्मण पर वार करने के बाद इंद्रजीत ने कहा, ‘ मेरे एक सपोले ने तुम्हारे शेषनाग को लम्बा कर दिया लेकिन अभी तो पूरा पिटारा भरा पड़ा है। ‘

इन डायलॉग्स के कारण फिल्म के राइटर मनोज मुंतशिर को फिल्म के रिलीज़ के बाद से ही सोशल मीडिया पर काफी ट्रोलिंग का सामना करना पड़ रहा है। लोग उनसे कई तरह के सवाल कर रहे हैं कि आखिर रामायण के किस वर्ज़न में ऐसे संवाद लिखे हैं, क्या रामायण में ऐसे शब्दों का कहीं उल्लेख किया गया है।

रामायण और रामचरित मानस के ठीक विपरीत ‘आदिपुरुष’
हिन्दू सेना द्वारा दायर याचिका में कहा गया है कि जिस तरीके से फिल्म आदिपुरुष में सभी किरदारों का चित्रण किया गया है वो महर्षि वाल्मीकि द्वारा लिखित रामायण और तुलसीदास द्वारा लिखित रामचरित मानस के बिलकुल विपरीत है। डायरेक्टर ओम राउत के डायरेक्शन में बनी इस फिल्म में हिन्दुओं की भावनाओं को बहुत ठेस पहुंचा है। जिस तरह से फिल्म में तथ्यों से छेड़छाड़ की गई है उसे देखकर हमारा मन बेहद चिंतित है।

लोगों ने कैंसिल किए फिल्म के टिकट
वहीं विवादों के बीच कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर फ़िल्म की टिकट कैंसिल करके इसकी कुछ फोटो शेयर की। जानकारी के मुताबिक एक शख्स ने इस फिल्म के 9 टिकट खरीदे थे लेकिन फिल्म पर जारी विवादों के कारण उसने टिकट कैंसिल कर दिए। साथ ही उस शख्स ने टिकट कैंसिल करने के बाद इसकी फोटो ट्विटर पर पोस्ट करते हुए लिखा कि वे अपने बच्चों को ऐसी रामायण नहीं दिखाएंगे।

ओम राउत वाला रावण लेता है पाइथन मसाज
फिल्म आदिपुरुष में एक सीन ऐसा भी है जिसमें रावण के किरदार में सैफ अली खान अजगरों के बीच लेटे नज़र आ रहे हैं। सोशल मीडिया पर इस सीन को लेकर कई तरह के मीम भी बनाए जा रहे हैं। लोगों का कहना है कि इस फिल्म का रावण पाइथन मसाज भी लेता है। इसके अलावा एक सीन और है जिसमे रावण ने चेहरे पर वेल्डिंग मास्क पहन रखा है। इस सीन को लेकर भी मेकर्स की सोच पर भी कई तरह के सवाल उठाए जा रहे हैं।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

Recent Comments