Friday, June 14, 2024
34.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeLATESTयुद्ध का नया युग: high-tech का दौर

युद्ध का नया युग: high-tech का दौर

Google News
Google News

- Advertisement -

युद्ध का तरीका बदल रहा है। अब तक, युद्ध बड़े पैमाने पर सैनिकों और हथियारों के बल पर लड़े जाते थे। लेकिन अब, तकनीक युद्ध के मैदान में एक प्रमुख भूमिका निभा रही है। उच्च तकनीक युद्ध का एक उदाहरण है यूक्रेन में रूस का आक्रमण। इस युद्ध में, रूस ने उन्नत हथियारों और उपकरणों का इस्तेमाल किया है, जैसे कि ड्रोन, साइबर हमले और मिसाइलें। इन हथियारों ने यूक्रेनी सेना को भारी नुकसान पहुंचाया है।

उच्च तकनीक युद्ध के कुछ अन्य उदाहरण हैं:

2010 में, ईरान ने एक समुद्री ड्रोन का इस्तेमाल कर अमेरिकी नौसेना के जहाज को निशाना बनाया।

2014 में, रूस ने साइबर हमले का इस्तेमाल कर अमेरिकी चुनावों में हस्तक्षेप करने की कोशिश की।

2018 में, उत्तर कोरिया ने एक मिसाइल का परीक्षण किया जो संयुक्त राज्य अमेरिका तक पहुंच सकता था।

ये सभी घटनाएं इस बात का संकेत देती हैं कि हम एक नए युग में प्रवेश कर रहे हैं, जहां युद्ध तकनीक से संचालित होगा।

उच्च तकनीक युद्ध के कई फायदे हैं। सबसे पहले, यह सेनाओं को अधिक सटीक और घातक हथियार प्रदान करता है। दूसरे, यह सेनाओं को दूर से लड़ने में सक्षम बनाता है, जिससे सैनिकों के नुकसान को कम किया जा सकता है। तीसरा, यह सेनाओं को साइबर हमलों और अन्य सूचना-आधारित हमलों का मुकाबला करने में सक्षम बनाता है। हालांकि, उच्च तकनीक युद्ध के भी कुछ नुकसान हैं। सबसे पहले, यह युद्ध को और भी खतरनाक बना देता है। दूसरे, यह युद्ध को अधिक महंगा बना देता है। तीसरा, यह युद्ध को और भी जटिल बना देता है, क्योंकि दोनों पक्षों को एक-दूसरे के तकनीकी क्षमताओं को समझना होगा।

Russia-Ukraine War Analysis: रूस-यूक्रेन युद्ध का भारत पर कितना होगा असर,  आपके घर का बजट बिगड़ेगा? समझिए | Zee Business Hindi

कुल मिलाकर, उच्च तकनीक युद्ध एक नए युग की शुरुआत का प्रतीक है। यह एक युग जहां युद्ध तकनीक से संचालित होगा और जहां युद्ध के परिणामों को और भी अधिक भयानक हो सकता है। हमारे पास यह चुनना है कि हम इस नए युग का उपयोग कैसे करते हैं। हम इसे एक युग के रूप में बना सकते हैं जहां युद्ध को समाप्त किया जाता है और शांति कायम की जाती है। या हम इसे एक युग के रूप में बना सकते हैं जहां युद्ध और भी खतरनाक हो जाता है। यह हमारे ऊपर है कि हम क्या चुनते हैं।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

एक दिन पूरी दुनिया को ले डूबेगा जलवायु परिवर्तन

पूरा उत्तर भारत तप रहा है। यह तपन जलवायु परिवर्तन के कारण है। इस तपन के कारण मानव क्षति भी हो रही है और आर्थिक क्षति भी।...

माहौल खराब करने से बेहतर आप और कांग्रेस बातचीत करें

इन दिनों हरियाणा के राजनीतिक परिदृश्य में इंडिया गठबंधन के बिखरने की बात कही जा रही है। इस बात को भाजपा नेता बड़ी जोरशोर...

संत नामदेव ने छाल की तरह अपनी खाल उतारी

महाराष्ट्र के संत नामदेव ने जीवन भर प्रभु भक्ति और समता का प्रचार किया। वह अपने समय के प्रसिद्ध संत ज्ञानेश्वर के साथ उत्तर...

Recent Comments