Friday, June 14, 2024
34.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeASTROLOGY News DeshrojanaWeekly Vrat Tyohar 2023: आने वाले 7 दिन है बेहद खास, जानें...

Weekly Vrat Tyohar 2023: आने वाले 7 दिन है बेहद खास, जानें महत्वपूर्ण व्रत और त्यौहारों के बारें में

Google News
Google News

- Advertisement -

Weekly Vrat Tyohar 2023: आज से आने वाली 24 सितम्बर को कई महत्वपूर्ण व्रत और त्योहार पड़ेंगे। यह भाद्रपद माह का तीसरा हफ्ता है जिसमें हरतालिका तीज, गणेश चतुर्थी, राधा अष्टमी और ऋषि पंचमी समेत कई पर्व आने वाले है।



भाद्रपद महीने की शुरुआत हो चुकी है और आज से आने वाले 7 दिनों में त्यौहारों की झड़ी लग जाएगी आज भाद्रपद माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि है ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, आज चित्रा नक्षत्र के साथ ही इंद्र और रवि योग भी बन रह है।

देखा जाए तो सितम्बर का यह पूरा सप्ताह कई मायनों में बेहद खास है इसकी शुरुआत ही हरतालिका तीज व्रत के साथ हुई है कई लोग आज के दिन निर्जला व्रत रखते है तो कई बिना व्रत के केवल पूजा उपासना करते है।
इसी व्रत के साथ इस हफ्ते में गणेश चतुर्थी, ऋषि पंचमी, राधा अष्टमी और महालक्ष्मी व्रत भी की शुरुआत होने वाली है।



तो आइए आपको बताते हैं 18 से 24 सितंबर 2023 के बीच पड़ने वाले व्रत और त्योहारों के बारे में

1 – गणेश चतुर्थी : 19 सितंबर 2023 यानि मंगलवार के दिन पूरे देश में गणेश चतुर्थी मनाई जाएगी। इस 10 दिवसीय उत्सव के आते ही चारों तरफ रौनक देखने को मिलती है। लोग अपने घर, मंदिर और ऑफिस में गणपति जी की मूर्ति स्थापित करते है। पूरे 10 दिनों तक गणेश जी उपासना करने के बाद अनंत चतुर्दशी वाले दिन बड़े ही धूमधाम से उनकी मूर्ति का विसर्जन किया जाता है।



2 – ऋषि पंचमी : हर साल भाद्रपद माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को ‘ऋषि पंचमी’ मनाई जाती है। हिन्दू पंचांग के अनुसार इस बार 20 सितम्बर के दिन यह त्यौहार मनाया जाएगा। यह व्रत बेहद खास है यदि किसी व्यक्ति से जानें या अनजाने में कोई पाप या गलत काम हो गया है जिसका उसे अफसोस है और वह अपने पापों को धोना चाहता है तो वह अपने पापों का प्रायश्चित के लिए व्रत रखकर इस दिन सप्तऋषियों की पूजा कर सकता है।



3 – महालक्ष्मी व्रत : इस बार महालक्ष्मी व्रत की शुरुआत 22 सितंबर से होने जारी है यह व्रत 16 दिनों तक चलता है इस बीच माँ लक्ष्मी की पूरी श्रद्धा भाव से पूजा- उपासना की जाती है। मान्यता है, कि जिन लोगों के जीवन में आर्थिक तंगी से संबंधित परेशानियां है वह अगर इन 16 दिनों तक माता लक्ष्मी की पूजा करते है और व्रत रखते है तो उन्हें बेहद लाभ होता है।



4 – राधा अष्टमी : यह बात सभी जानते है, कि कृष्ण जन्माष्टमी के 15 दिन बाद राधा अष्टमी मनाई जाती है जिसका सभी को बेसब्री से इंतज़ार रहता है। इस दिन को राधारानी के जन्मोत्सव के रूप में मनाया जाता है इस बार राधा अष्टमी भाद्रपद शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि यानी 23 सितंबर के दिन पड़ रही है। मान्यता है, कि इस दिन पूजा करने से कृष्णजन्माष्टमी के दिन की गई पूजा सफल मानी जाती है।




- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

माहौल खराब करने से बेहतर आप और कांग्रेस बातचीत करें

इन दिनों हरियाणा के राजनीतिक परिदृश्य में इंडिया गठबंधन के बिखरने की बात कही जा रही है। इस बात को भाजपा नेता बड़ी जोरशोर...

संत नामदेव ने छाल की तरह अपनी खाल उतारी

महाराष्ट्र के संत नामदेव ने जीवन भर प्रभु भक्ति और समता का प्रचार किया। वह अपने समय के प्रसिद्ध संत ज्ञानेश्वर के साथ उत्तर...

एक दिन पूरी दुनिया को ले डूबेगा जलवायु परिवर्तन

पूरा उत्तर भारत तप रहा है। यह तपन जलवायु परिवर्तन के कारण है। इस तपन के कारण मानव क्षति भी हो रही है और आर्थिक क्षति भी।...

Recent Comments