Thursday, June 13, 2024
38.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeLATESTऑफिस आवर्स में अपनाएं यह हेल्दी आदतें कभी नहीं करना पड़ेगा किसी...

ऑफिस आवर्स में अपनाएं यह हेल्दी आदतें कभी नहीं करना पड़ेगा किसी परेशानी का सामना

Google News
Google News

- Advertisement -

Emory और Harvard University द्वारा कंडक्ट हुई इंडिया रिपोर्ट में पाया गया है कि workplace पर group walk करने से hypertension , blood pressure , मोटापा एवं Diabetes जैसी समस्या कम पाई गई है।

Office में हेल्थी कैसे रहे
आज की भागदौड़ भरी जिंदगी के अंदर लोगों का lifestyle और खान – पान इस हद तक बिगड़ गया है कि हर दूसरा व्यक्ति Diabetes , मोटापा , hypertension जैसी समस्या से घिरा हुआ है। इन बीमारियों को वक्त की कमी के चलते कंट्रोल करना काफी मुश्किल हो गया है। दफ्तर के अंदर हर व्यक्ति करीब 9 घंटे बिताता है ऐसे में वह अपने खानपान का ध्यान नहीं पता है, ना हीं वो ठीक से Active हो पाता है। हालांकि ऑफिस में रह कर भी आप कुछ healthy habits को अपनाने के बाद इन सभी बीमारियों को आप काफी हद तक कम कर सकते है। तो चलिए जानते है कैसे किया जाए

डायबिटीज की समस्या ऑफिस आवर्स में टहलने से कम की जा सकती है
Emory और Harvard University द्वारा कंडक्ट हुई इंडिया रिपोर्ट में पाया गया है कि workplace पर group walk या फिर वॉक करने से hypertension , blood pressure , मोटापा एवं Diabetes जैसी समस्या कम पाई गई है। 18 महीने तक india workऔर Integrating Diabetes Prevention in the Workplace में यह देखा गया है की इस प्रोग्राम के दौरान शामिल होने वाले करीब 25 % लोगों में office timings में टहलने या फिर group exercise करने से 3 महीने के अंदर ही blood glucose लेवल नॉर्मल हो गया था।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि Madras Diabetes Research Foundation में इस प्रोग्राम का leadership का जिम्मा लिया है। उनकेहिसाब से खाने की गुणवत्ता में सुधार करने और ऑफिस की कैंटीन में भी हेल्दी चीजें खाने के साथ शारीरिक गतिविधि में शामिल होकर 2108 से करीब 547 लोगों ने अपने एचबीए 1 सी को नार्मल कर लिया है। जो लोग प्रोग्राम में शामिल हुए उन्होने अपना वजन कम करने के साथ 15% तक hypertension को भी कम किया है। इससे लोगों के अंदर करीब में 3 MS तक systolic blood pressure भी कम होते हुए पाया गया है। इस अध्ययन को अब भारतीय कंपनियों के लिए प्रेरणा भी माना गया है।

भारत के अंदर Diabetes के मामले
भारत में 101 million लोग Diabetes , 136 million लोग pre-diabetes और 315 million लोग उच्च blood pressure से पीड़ित माने गए है। हालांकि , केवल एक चौथाई ग्रामीण एवं आधे से भी कम शहर की आबादी को मालूम है कि वह किन स्थितियों के साथ रह रहे है। इन सारी समस्याओं के पीछे unhealthy lifestyle और खराब खानपान मिला हुआ है।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

एक दिन पूरी दुनिया को ले डूबेगा जलवायु परिवर्तन

पूरा उत्तर भारत तप रहा है। यह तपन जलवायु परिवर्तन के कारण है। इस तपन के कारण मानव क्षति भी हो रही है और आर्थिक क्षति भी।...

माहौल खराब करने से बेहतर आप और कांग्रेस बातचीत करें

इन दिनों हरियाणा के राजनीतिक परिदृश्य में इंडिया गठबंधन के बिखरने की बात कही जा रही है। इस बात को भाजपा नेता बड़ी जोरशोर...

संत नामदेव ने छाल की तरह अपनी खाल उतारी

महाराष्ट्र के संत नामदेव ने जीवन भर प्रभु भक्ति और समता का प्रचार किया। वह अपने समय के प्रसिद्ध संत ज्ञानेश्वर के साथ उत्तर...

Recent Comments