Wednesday, June 19, 2024
39.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeEDITORIAL News in Hindiप्रदेश में विकास के नित नए आयाम गढ़ती मनोहर सरकार

प्रदेश में विकास के नित नए आयाम गढ़ती मनोहर सरकार

Google News
Google News

- Advertisement -

हरियाणा सरकार ने पिछले नौ वर्षों में जिस तरह प्रदेश का नक्शा बदलकर रख दिया है, वह एक उपलब्धि ही मानी जाएगी। कोई भी क्षेत्र हो, मनोहर सरकार ने पूरी तरह से कायाकल्प कर दिया है। मनोहर सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि तो परिवार पहचान पत्र है जिसकी प्रशंसा दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों तक ने की है। इस पहचान पत्र ने किसानों और गरीब परिवारों को तमाम दिक्कतों से छुटकारा दिला दिया है। अब उन्हें कई मामलों में सरकारी दफ्तरों के चक्कर काटने से बचा लिया है। सरकारी दफ्तरों में होने वाली लूट-खसोट से भी गरीब और किसान बच गए हैं।

किसी भी मामले में किसी कागजात की जरूरत है, तो बस उन्हें अपने पहचान पत्र का नंबर दर्ज करना होता है और उनसे जुड़ी सारी जानकारी आॅनलाइन सामने आ जाती है। शिक्षा, स्वास्थ्य, सड़क, बिजली, पानी या सिंचाई से जुड़े मामले हों, प्रदेश सरकार ने हर क्षेत्र के लिए कई जनकल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं। शिक्षा क्षेत्र में कई क्रांतिकारी कदम उठाए हैं। पिछले साल नवंबर-दिसंबर में पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट के सवालों का जवाब देते हुए सरकार ने बताया था कि नये बनने वाले 8240 क्लासरूम में 415 क्लासरूम का निर्माण कार्य पूरा हो गया है।

879 क्लासरूम का निर्माण कार्य जारी है जिसे दिसंबर 2024 तक पूरा कर लिया जाएगा। 1372 क्लासरूम का निर्माण कार्य साल 2025 में दिसंबर महीने तक पूरा कर लिया जाएगा। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने स्वयं जानकारी देते हुए कहा था कि प्रदेश में करीब साढ़े 14 हजार स्कूल हैं, जिनमें 1800 स्कूलों में कुछ कमियां सामने आई थी। इनमें से 131 स्कूलों में पेयजल नहीं होने, 1047 स्कूलों में लड़कों और 538 स्कूलों में लड़कियों के लिए शौचालय नहीं होने तथा 236 स्कूलों में बिजली कनेक्शन नहीं होने की जानकारी सामने आई थी।

इसके बाद तुरंत प्रभाव से संबंधित स्कूलों में बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए तीन किस्तों में राशि जारी कर दी गई थी। सभी 1800 स्कूलों में जो कमियां थीं, उनको पूरा कर दिया गया है। अब कल यानी 24 जनवरी को मुख्यमंत्री प्रदेश के विकास की नई आधारशिला रखने वाले हैं। हिसार से वे प्रदेश के कई जिलों के लिए 1370 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास और 712 करोड़ रुपये की 71 परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे। इन परियोजनाओं के पूरे होने पर स्वाभाविक तौर पर अर्थव्यवस्था को गति मिलेगी। युवाओं के लिए रोजगार का सृजन होगा।

जिन इलाकों में ये परियोजनाएं शुरू होने वाली हैं या पूरी हो गई हैं, उन इलाकों में लोगों को कई तरह की सहूलियत मिल जाएगी। इन सबके बावजूद अभी प्रदेश में बहुत कुछ करना बाकी है। प्रदेश सरकार का बेरोजगारी को दूर करना सबसे बड़ा लक्ष्य होना चाहिए। हालांकि यह भी सही है कि प्रदेश सरकार लगातार युवाओं को रोजगार दिलाने की दिशा में प्रयत्नशील है।

-संजय मग्गू

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

किरण चौधरी ने क्यों छोड़ा हरियाणा कांग्रेस का साथ, क्या रहे अंदरूनी कारण?

हरियाणा की राजनीती में अपनी छाप छोड़ने वाले पूर्व मुख्यमंत्री बंसी लाल की पुत्रवधु किरण चौधरी ने हरियाणा कांग्रेस का साथ छोड़ अपना रास्ता...

पाप का गुरु मन में बैठा लोभ है

प्राचीनकाल में किसी गांव में एक पंडित जी रहते थे। वह नियम धर्म के बहुत पक्के थे। किसी के हाथ का छुआ पानी तक नहीं पीते...

आ गया Motorola Edge 50 Ultra , दमदार फीचर्स जानकर उड़ जाएंगे होश

भारतीय बाज़ारों में Motorola Edge 50 Ultra लॉन्च हो गया है स्मार्टफोन (Smartphone) के दीवानों के लिए ये सबसे बढ़िया ऑप्शन साबित हो सकता...

Recent Comments