Friday, June 21, 2024
31.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeE-PAPERGurugram Edition150 एमएम बारिश से डूबा गुरुग्राम, प्रशासन के दावे और इंतजाम फिर...

150 एमएम बारिश से डूबा गुरुग्राम, प्रशासन के दावे और इंतजाम फिर हुए फेल

Google News
Google News

- Advertisement -

प्रवेश चौहान, देश रोजाना

गुरुग्राम। रविवार की अलसुबह से शाम तक लगातार हुई बारिश में प्रशासन के दावे और इंतजाम फेल होते नजर आए। प्रशासन भले ही जल निकासी के दावे करता रहा, लेकिन हकीकत यही रही कि जलभराव खूब हुआ। डीसी निशांत कुमार यादव बरसात के बीच जल निकासी के प्रबंधों का जायजा लेते रहे। रविवार की बारिश से गुरुग्राम में बाढ़ जैसे हालात हो गए। दिल्ली-जयपुर नेशनल हाइवे, द्वारका एक्सप्रेस-वे समेत सभी सड़कें पानी में डूबी रहीं। स्वयं डीसी अपने अधीनस्थ अधिकारियों के साथ विभिन्न स्थानों पर जलभराव का जायजा लेते रहे। कुल मिलाकर जलभराव से निपटने के दावे अभी तक फेल ही नजर आ रहे हैं। कई जगह दुपहिया, चारपहिया वाहन बरसाती पानी में डूबे नजर आए। नागरिक अस्पताल सेक्टर-10 के आपातकालीन विभाग समेत कई स्थानों पर जलभराव हो गया।

डीसी ने कंपनियों को सोमवार तक कर्मचारियों से वर्क फ्रॉम होम के लिए कहा है। रविवार को सबसे अधिक जलभराव हीरो होंडा चौक, बसई, सेक्टर-10, जयपुर हाईवे के दोनों ओर सर्विस लेन, सेक्टर-9, अशोक विहार, शीतला माता रोड, सेक्टर-5, लक्ष्मण विहार, धनवापुर रोड, सेक्टर-4/7 रोड पर नजर आया। बसई में भी जलभराव काफी रहा। कई बार यहां जलभराव ना होने देने के उद्देश्य से बड़ी पाइन लाइन भी डाली जा चुकी है, लेकिन यहां पानी क्यों भरता है इसका अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया है। पहले तो बसई के लोग यहां जलभराव को लेकर विरोध भी जताते थे, लेकिन प्रशासन की ओर से इस विषय को गंभीरता से नहीं लेने के चलते अब लोगों ने विरोध करना भी छोड़ दिया है।

हीरो होंडा चौक की तो यह चौक जलभराव का हॉट स्पॉट है। यहां जयपुर जाने के दौरान फ्लाईओवर शुरू होने से लेकर खत्म होने तक हीरो होंडा कंपनी की लेन पानी से लबालब रही। छोटे बड़े वाहन यहां से रेंगते हुए निकले। काफी जलभराव के कारण पानी में बंद भी हो गए। यहां वाहनों को पुलिसकर्मी धक्का लगाकर एक तरफ करवा रहे थे। कुछ लोग अपनी रेहडिय़ों में लोगों को पानी पार करवा रहे थे। ड्यूटी पर जाने के लिए कर्मचारी इन रेहडिय़ों में बैठकर पानी में से सड़क पार कर रहे थे। सुभाष चौक से एकलव्य चौक की तरफ आने वाले वाहन भी पानी में रेंगते हुए निकले। जयपुर की तरफ खेड़कीदौला-नरसिंहपुर के बीच सर्विस लेने में भरे पानी में निकलने का प्रयास कर रहे दुपहिया वाहन चालकों के वाहन बंद हो गये।


गुरुग्राम में औसतन 467 एमएम बारिश होती है। लेकिन पिछले 15 दिन में ही मानसून की बारिश का 50 फीसदी कोटा पूरा हो गया है। 21 जून से 9 जुलाई तक गुडग़ांव में 270 एमएम बारिश हो चुकी है। हालांकि अभी दो दिन के लिए मौसम विभाग ने बारिश का अलर्ट जारी किया हुआ है।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

जदयू सांसद ने कहीं पैरों पर कुल्हाड़ी तो नहीं मार ली!

जदयू सांसद देवेश चंद्र ठाकुर का मुस्लिम और यादवों को लेकर दिए गए बयान का असर बिहार की राजनीति में बहुत दिनों तक...

महात्मा बुद्ध ने समझाया, शरीर नश्वर है

जब कोई व्यक्ति अपने आराध्य के गुणों, कार्यों और वचनों को याद रखने, उनके बताए गए मार्ग का अनुसरण करने की जगह मूर्ति बनाकर...

भीषण अव्यवस्था का पर्याय बनते हरियाणा के सरकारी अस्पताल

हरियाणा के अस्पतालों में अव्यवस्था कम होने का नाम नहीं ले रही है। इन दिनों जब भीषण गर्मी और अन्य बीमारियों की वजह से...

Recent Comments