Tuesday, April 23, 2024
30.7 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeHARYANAदिल्ली हेड कांस्टेबल हत्याकांड के आरोपी मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार

दिल्ली हेड कांस्टेबल हत्याकांड के आरोपी मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार

Google News
Google News

- Advertisement -

नूंह/मेवात। नूंह और दिल्ली पुलिस के ज्वाईंट ऑप्रेशन में दिल्ली पुलिस के हवलदार के हत्यारे को मुठभेड़ के बाद तावडू से गिरफ्तार किया है। आरोपी करीब 11 साल से हत्या कर फरार था। आरोपी शाकिर तावडू के शिकारपुर गांव का रहने वाला है। आरोपी के कब्जे से एक अवैध पिस्टल, दो कारतूस व एक अपाचे मोटरसाईकिल बरामद की है। आरोपी के खिलाफ विभिन्न थानों में 7 से अधिक अपराधिक मामले दर्ज हैं। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपी के दोनों पैरों में मुठभेड़ के दौरान गोली लगी है, जिसका का इलाज नूंह के शहीद राजा हसन खान मेडिकल कॉलेज में किया जा रहा है।

कुलदीप सिंह अतिरिक्त एसपी नूंह ने बताया कि 27 फरवरी की रात्री को स्पैशल सैल, एन डी आर, दिल्ली पुलिस तथा नूंह पुलिस की अपराध जांच शाखा नूंह व तावडू की ज्वाईंट टीम ने वर्ष 2012 में दिल्ली पुलिस के हवलदार यशपाल की हत्या में वांछित आरोपी शाकिर पुत्र मौहम्मद जानू निवासी शिकारपुर थाना सदर तावडू, जिला नूंह को गुप्त सूचना के आधार पर जी सी एस स्कूल तावडू के पास से मुठभेड़ के बाद काबू किया है।

आरोपी से एक अवैध पिस्टल भी बरामद

मुठभेड़ के दौरान आरोपी शाकिर के दोनों पैरो में गोली लगी। आरोपी को ईलाज इलाज के शहीद हसन खां मेवाती मैडिकल कॉलेज नलहड में दाखिल कराया गया है। आरोपी के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है तथा आरोपी के कब्जे से एक अवैध पिस्टल, दो कारतूस व एक अपाचे मोटरसाईकिल की बरामद भी की है। उन्होंने बताया कि पहली छानबीन में पता चला है कि आरोपी के खिलाफ विभिन्न थानों में आधा दर्जन से अधिक अपराधिक मुकदमा दर्ज हैं।

यह भी पढ़ें : एनसीआर में खेले जाने वाली बड़ी प्रतियोगिता है शारदा फाउंडेशन चैरिटी लीग

अतिरिक्त एसपी ने बताया कि पुलिस को गुप्त सूचना प्राप्त हुई कि वर्ष 2012 में दिल्ली पुलिस के हवलदार यशपाल की हत्या में वांछित आरोपी शाकिर पुत्र मौहम्मद जानू निवासी शिकारपुर (तावडू) अपने किसी साथी से मिलने व वारदात को अन्जाम देने तावडू आएगा। जिसके बाद दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम में तैनात निरीक्षक शिवकुमार ने अपराध जांच शाखा नूंह में तैनात निरीक्षक अमित कुमार व अपराध जांच शाखा तावडू में तैनात निरीक्षक सुभाष से संपर्क कर, एक ज्वाईंट टीम का गठन करके उनको सूचना से अवगत कराया।

मुकदमा दर्ज

तुरंत 27 फरवरी को सुबह करीब 03 बजे ज्वाईंट रैंडिग टीम ने जी0सी0एस0 स्कूल तावडू के पास पहुंचकर आरोपी शाकिर उपरोक्त को पकड़ने के लिए नाकाबन्दी शुरु की। जो कुछ देर बाद ही आरोपी शाकिर बिलासपुर की तरफ से एक सिल्वर रंग की बिना नंबर प्लेट की एक अपाचे मोटरसाईकिल पर आता हुआ पुलिस टीम को दिखाई दिया। जो पुलिस पार्टी द्वारा उसे रोकने की कोशिश की गई, लेकिन आरोपी शाकिर ने पुलिस पार्टी को देखकर भागने का प्रयास करने लगा और पुलिस पार्टी को टारगेट करते हुए पुलिस पार्टी पर जान से मारने की नियत से सीधे 04 राउंड फायर किए। जो पुलिस पार्टी द्वारा भी अपनी आत्मरक्षा में आरोपी शाकिर पर एक-2 राउंड फायर किया। जिससे आरोपी शाकिर के दोनों पैरो में गोली लगी। आरोपी शाकिर को पुलिस टीम द्वारा काबू कर उपचार के लिए नल्हड़ मैड़िकल अस्पताल नूंह में भर्ती करवाया गया। आरोपी के खिलाफ सम्बधिंत धाराओं के तहत थाना सदर तावडू में मुकदमा दर्ज करके आगामी कार्यवाही की जा रही है।

लेटेस्ट खबरों के लिए जुड़ें रहें : https://deshrojana.com/

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

Recent Comments