Wednesday, June 19, 2024
42.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeHARYANAFaridabadफरीदाबाद में संपन्न हुआ पूर्व सैनिकों का पहला महासम्मेलन

फरीदाबाद में संपन्न हुआ पूर्व सैनिकों का पहला महासम्मेलन

Google News
Google News

- Advertisement -

फरीदाबाद। रविवार को वीरों व शहीदों की भूमि तिगाव में पूर्व सैनिकों का पहला महासम्मेलन संपन्न हुआ जिसमे फरीदाबाद व पलवल के लगभग 300 से भी अधिक पूर्व सैनिक, वीर नारियों व कई शहीदों के परिवारों ने भागीदारी की

retired

कार्यक्रम में सेवा निवृत्त

हवलदार करतार सिंह नागर (से.नि.) की अगुवाई में संपन्न हुए इस कार्यक्रम में सेवा निवृत्त जनरल एस.के.दत्त, जनरल वी.के. तिवारी, अंजू तिवारी आई.ए.एस., कर्नल देवेंद्र कुमार,कर्नल राजेंद्र सिंह, डी.जी.एम. तेलहान,विंग कमांडर सतिंदर दुग्गल, पलवल से कैप्टन बी.एस.पोसवाल,कैप्टन भरत पाल,कैप्टन गिरधारी,कैप्टन लालाराम,चाँदहट से कैप्टन जयपाल, दयालपुर से सूबेदार ओम प्रकाश, सूबेदार पोप सिंह,जसाना से सूबेदार फिरे सिंह,भतोला से सूबेदार जवाहर सिंह, वारंट ऑफिसर डी.सिंह,सूबेदार सुंदर सिंह,सूबेदार ब्रिक पाल,सी.एस.डी. कैंटीन से सूबेदार संजीव शर्मा जे.डब्ल्यू.ओ. हरस्वरूप,जे.डब्ल्यू.ओ.भरत सिंह डबास, जे.डब्ल्यू.ओ. दिनेश पांडेय, अब एन.आई.टी. व पलवल बैंक मैनेजर, संजय तिवारी,झाड़सेतली

यह भी पढ़ें : सूरजकुंड मेला में आए उड़ीसा के नेशनल अवार्डी शिल्पकार

समाजसेवक धर्म सिंह डागर, एन.जी.ओ.संचालक पूनम सनसन्वार,मास्टर रतिचंद, ज़िले थानेदार,सूबेदार राजेंद्र नागर,सूबेदार नत्थी सिंह,हवालदार रवींद्र,हवलदार खिम्मान,सूबेदार सुमेर सिंह, सूबेदार तेजपाल, कैप्ट गजेश अधना,हवलदार लीलाराम सहित कारगिल युद्ध में शहीदों की वीरांगना अनीता, सुनीता, व सी.एस.डी. कैंटीन से शशि, उर्मिला, संगीता सहित मच्छगर, ताजुपुर, काँवरा, चीरसी, बदरौला, मिर्ज़ापुर, नीमका,छायंसा, मंधावली, मँझावली, चंदावली, बदरपुर सेड, पंहेड़ा खुर्द से बड़ी संख्या में पूर्व सैनिक शामिल हुए व सभी उपस्थित पूर्व सैनिकों व परिवारों को समाज में ऊँचे ओहदों पर पहुँचने व समाज में सेवा देने के लिए सम्मान दिया गया
इस अवसर पर पूर्व सैनिकों ने दिल्ली के शाहीन बाग में पदस्थ पूर्व सैनिक के बेटे एस.एच.ओ. निशांत नागर को भी सम्मानित किया

खबरों के लिए जुड़े रहें : https://deshrojana.com/

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

दक्षिण भारत को प्रियंका और उत्तर प्रदेश को संभालेंगे राहुल

आखिरकार राहुल गांधी ने वायनाड सीट छोड़ने और अपनी बहन प्रियंका गांधी को वायनाड से लड़ाने का फैसला कर ही लिया। इस बात की...

किरण चौधरी ने क्यों छोड़ा हरियाणा कांग्रेस का साथ, क्या रहे अंदरूनी कारण?

हरियाणा की राजनीती में अपनी छाप छोड़ने वाले पूर्व मुख्यमंत्री बंसी लाल की पुत्रवधु किरण चौधरी ने हरियाणा कांग्रेस का साथ छोड़ अपना रास्ता...

हरियाणा में सस्ती क्यों नहीं हो सकती एमबीबीएस की पढ़ाई?

हरियाणा सरकार ने विदेश से एमबीबीएस की डिग्री लेकर आए डॉक्टरों के लिए दो से तीन साल की इंटर्नशिप अनिवार्य कर दी है। प्रदेश...

Recent Comments