Friday, June 21, 2024
31.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeHARYANAFaridabadPolice ने mla को पढ़ाया गणतंत्र दिवस में कफन न पहनकर जाने...

Police ने mla को पढ़ाया गणतंत्र दिवस में कफन न पहनकर जाने का पाठ

Google News
Google News

- Advertisement -

MLA बोले पुलिस ने की धक्का मुक्की, जबकि पुलिस बोली आपको पता है कहा कैसे है जाना…

जिला स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह में हिस्सा लेने पहुंचे विधायक नीरज शर्मा को पुलिस ने कफ़न पहनकर जाने से रोक दिया जिस पर विधायक नीरज शर्मा ने पुलिस पर धक्का मुक्की और समारोह में जाने से रोकने का आरोप लगाया है। विधायक ने एक प्रेस रिलीज जारी करके बताया की वह जिला प्रशासन की ओर से आयोजित किए गए गणतंत्र दिवस समारोह में हिस्सा लेने से आज यहां सेक्टर 12 में जा रहे थे…पुलिस प्रशासन ने न सिर्फ रोक दिया बल्कि उनके साथ धक्का मुक्की भी की।

Mla को पुलिस समझते हुए

उन्होंने लिखा है की वो अपने विधानसभा क्षेत्र एनआईटी 86 की जन समस्याओं वाला चोगा पहनकर गणतंत्र दिवस समारोह में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे थे। जैसे ही वो सेक्टर 12 पहुंचे मुख्य द्वार पर पुलिसकर्मियों ने उन्हें भीतर जाने से रोक दिया और उनके साथ धक्का मुक्की शुरू कर दी । विधायक नीरज शर्मा ने बकायदा अपना परिचय दिया अपने पास आया हुआ निमंत्रण पत्र अधिकारियों को दिखाया लेकिन इसके बावजूद उन्हें भीतर जाने नहीं दिया गया। नीरज शर्मा बार-बार कहते रहे कि उनके पास आमंत्रण पत्र है और गणतंत्र दिवस समारोह इस देश की आन बान शान का प्रतीक समारोह है जिसमें उन्हें हिस्सा लेने से न रोका जाए इसके बावजूद मौके पर मौजूद पुलिस प्रशासन ने उनका कोई भी तर्क नहीं सुना और भीतर जाने से रोक दिया।

शर्मा ने कहा कि उनके कपड़ों पर जय सियाराम लिखा हुआ है और स्वास्तिक अंकित है। अतः उन्हें इस समारोह में जाने से रोका जाना अनुचित है। लेकिन वही पुलिस कर्मी भी उन्हें इस तरह से कफन के साथ गणतंत्र दिवस ना मानने का पाठ पढ़ाते नजर आए।

बाद में पत्रकारों से बात करते हुए नीरज शर्मा ने कहा कि जब-जब भाजपा सरकार डरती है तब तक पुलिस को आगे करती है एनआईटी 86 की जन समस्याओं के निराकरण के लिए धनराशि रिलीज न होने के कारण विधायक नीरज शर्मा ने गत 17 जनवरी को चंडीगढ़ में अपने वस्त्र उतार कर दो गज कफन का कपड़ा धारण कर लिया था। इस कपड़े पर विधायक नीरज शर्मा की विधानसभा की जन समस्याओं के चित्र छपे हुए हैं और उन समस्याओं के बारे में लिखा हुआ है।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

महात्मा बुद्ध ने समझाया, शरीर नश्वर है

जब कोई व्यक्ति अपने आराध्य के गुणों, कार्यों और वचनों को याद रखने, उनके बताए गए मार्ग का अनुसरण करने की जगह मूर्ति बनाकर...

भीषण अव्यवस्था का पर्याय बनते हरियाणा के सरकारी अस्पताल

हरियाणा के अस्पतालों में अव्यवस्था कम होने का नाम नहीं ले रही है। इन दिनों जब भीषण गर्मी और अन्य बीमारियों की वजह से...

जदयू सांसद ने कहीं पैरों पर कुल्हाड़ी तो नहीं मार ली!

जदयू सांसद देवेश चंद्र ठाकुर का मुस्लिम और यादवों को लेकर दिए गए बयान का असर बिहार की राजनीति में बहुत दिनों तक...

Recent Comments