Wednesday, June 19, 2024
42.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeIndiaअविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा को लेकर मिल सकती है तारीख

अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा को लेकर मिल सकती है तारीख

Google News
Google News

- Advertisement -

मणिपुर हिंसा को लेकर विपक्षी गठबंधन इंडिया ने अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस दे दिया है और अब संसद में लोकसभा अध्यक्ष विपक्ष के इस अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा की तारीख तय कर सकते हैं। इसी बीच कांग्रेस लेफ्ट सहित कई दलों ने लोकसभा में विधायकों के पारित करने पर भी सवाल उठा दिए हैं। उनका यह कहना है कि जब अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस स्पीकर ने स्वीकार कर लिया है तो पहले उस पर चर्चा और वोटिंग होनी चाहिए और तब तक दूसरे विधेयकों को पारित नहीं किया जाना चाहिए ऐसा करना गलत है। यही मुद्दा विपक्ष सदन में उठा सकता है संसद मानसून सत्र की कार्यवाही 20 जुलाई को शुरू हुई थी तब से अब तक यानी सात दिनों में सदन हमेशा ही हंगामे की भेंट चढ़ा रहा लेकिन फिर भी दोनों ही सदनों में सरकार ने कुछ विधायकों को पारित कर ही दिया आपको बता दें कि आने वाले दिनों में लोकसभा में जिन विधायकों को पेश किया जाना है, उनमें जन्म मृत्यु पंजीकरण संशोधन विधेयक 2023 संविधान जम्मू और कश्मीर वहीं अनुसूचित जनजाति आदेश संशोधन विधेयक 2023 संविधान जम्मू और कश्मीर अनुसूचित जाति आदेश संशोधन विधेयक 2023 जम्मू कश्मीर आरक्षण संशोधन विधेयक 2023 सहित कई अन्य विधेयक भी शामिल है।
इसके साथ ही संसद में पहले से जो गतिरोध मणिपुर हिंसा को लेकर चल रहा है सरकार और विपक्ष के आमने सामने खड़ी हुई है इसी बीच में दिल्ली सरकार के अधिकारों की सेवा से जुड़ा विधायक भी लोकसभा में पेश किया जा सकता है और पहले से ही दिल्ली सरकार इस विधेयक का विरोध करती आई है और अगर ऐसे में लोकसभा में यह विधेयक पेश हो जाता है तो हंगामा होना तो लाजमी है।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

आ गया Motorola Edge 50 Ultra , दमदार फीचर्स जानकर उड़ जाएंगे होश

भारतीय बाज़ारों में Motorola Edge 50 Ultra लॉन्च हो गया है स्मार्टफोन (Smartphone) के दीवानों के लिए ये सबसे बढ़िया ऑप्शन साबित हो सकता...

हरियाणा में सस्ती क्यों नहीं हो सकती एमबीबीएस की पढ़ाई?

हरियाणा सरकार ने विदेश से एमबीबीएस की डिग्री लेकर आए डॉक्टरों के लिए दो से तीन साल की इंटर्नशिप अनिवार्य कर दी है। प्रदेश...

किरण चौधरी ने क्यों छोड़ा हरियाणा कांग्रेस का साथ, क्या रहे अंदरूनी कारण?

हरियाणा की राजनीती में अपनी छाप छोड़ने वाले पूर्व मुख्यमंत्री बंसी लाल की पुत्रवधु किरण चौधरी ने हरियाणा कांग्रेस का साथ छोड़ अपना रास्ता...

Recent Comments