Friday, June 21, 2024
31.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeIndiaजैनाचार्य की मृत्यु के विरोध में जैन समाज ने निकाला मौन जुलूस...

जैनाचार्य की मृत्यु के विरोध में जैन समाज ने निकाला मौन जुलूस , प्रधानमंत्री के नाम एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

Google News
Google News

- Advertisement -

कर्नाटक के बेलगाव में हुई दिगम्बर जैनाचार्य काम कुमार नंदी की निर्मम मृत्यु के विरोध में आज अलवर में सकल दिगम्बर जैन समाज ने मौन जुलूस निकाला और जिला कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर प्रधानमंत्री , देश के गृहमंत्री ,कर्नाटक के राज्यपाल ,मुख्यमंत्री आदि के नाम ज्ञापन सौंपकर इस हत्या के आरोपियों को गिरफ्तार कर उन्हें कड़ी से कड़ी सजा दिलवाए जाने की मांग की। इस मृत्यु के विरोध में आज अलवर के जैन व्यवसाईयों ने सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे तक अपने प्रतिष्ठान बंद रखे।

दिगम्बर जैन अग्रवाल पंचायती मंदिर अलवर के पूर्व मंत्री हरीश जैन ने बताया कि मौन जुलूस की शुरूआत स्थानीय मन्नी का बड़ स्थित आदिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर से हुई जिसमें बड़ी संख्या में जैन महिला-पुरूष शामिल रहे। जुलूस में शामिल जैन धर्मावलम्बियों ने अपने हाथों में काली पट्टी बांध रखी थी व हाथों में विभिन्न नारे लिखी तख्तियां भी ले रखी थी। इस जुलूस में जैन समाज के लोगों के अलावा कई अजैन बंधु भी शामिल रहे जिनमेें पुरूष वर्ग सफेद तथा महिला वर्ग केसरिया परिधानों में शामिल रहा।

मन्नी का बड़ से जुलूस शुरू होकर पंसारी बाजार ,घंटाघर , होप सर्कस , बजाजा बाजार , त्रिपोलिया , मालाखेड़ा बाजार होते हुए बस स्टैण्ड के पास स्थित महावीर भवन पहुंचा जहां दो मिनट का मौन रखकर विनयांजलि सभा का कार्यक्रम रखा गया जिसका संचालन एडवोकेट राजेन्द्र जैन ने किया। विनयांजलि सभा में जैन मंदिरों के अध्यक्षों ,पदाधिकारियों ने अपनी विनयांजलि दी। कार्यक्रम में शामिल जैन धर्मावलम्बियों में जैनाचार्य कामकुमार नंदी जी की हत्या को लेकर भारी रोष दिखाई दिया। इस रैली में विभिन्न जैन संगठनों, संस्थानों के पदाधिकारी भी शामिल हुए।

नौगांवा में निकाली आक्रोश रैली
कामकुमार नंदी के अपहरण के बाद निर्मम हत्या के विरोध में जैन समाज नौगांवा ने अपने प्रतिष्ठान बंद रख विशाल आक्रोश रैली निकाली और नौगांवा तहसीलदार को कर्नाटक मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया। नौगांवा जैन समाज के पारस जैन ने बताया कि कर्नाटक में दिगम्बर जैन आचार्य 108 श्री कामकुमार नन्दी जी की निर्मम हत्या से पूरा जैन समाज आक्रोशित व आहत है। आचार्य के शरीर के टुकड़े टुकड़े कर बोरवैल में डाल दिया गया। ऐसा घिनौना अपराध जिन हत्यारों द्वारा किया गया है उन्हें जल्दी सजा दी जाए । दिगम्बर जैन समाज नौगांवा की तरफ से निकाली गई आक्रोश रैली में बच्चे ,महिलाएं , बुजुर्ग आदि सभी शामिल हुए।

तिजारा में निकली रैली ,कस्बा रहा बंद
जैनाचार्य कामकुमार नंदी की मृत्यु के विरोध में आज अलवर जिले के तिजारा कस्बे में भी आक्रोश रैली निकाली गई और प्रधानमंत्री के नाम एसडीएम को ज्ञापन दिया गया। देहरा मंदिर कमेटी तिजारा के अध्यक्ष मुकेश कुमार जैन ने बताया कि आक्रोश रैली कस्बे के मुख्य मार्गों से होती हुई एसडीएम कार्यालय पहुंची जहां ज्ञापन दिया गया। जैनाचार्य की मृत्यु के विरोध में आज दोपहर 12 बजे तक कस्बे की दुकाने बंद रहेंगी।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

जदयू सांसद ने कहीं पैरों पर कुल्हाड़ी तो नहीं मार ली!

जदयू सांसद देवेश चंद्र ठाकुर का मुस्लिम और यादवों को लेकर दिए गए बयान का असर बिहार की राजनीति में बहुत दिनों तक...

महात्मा बुद्ध ने समझाया, शरीर नश्वर है

जब कोई व्यक्ति अपने आराध्य के गुणों, कार्यों और वचनों को याद रखने, उनके बताए गए मार्ग का अनुसरण करने की जगह मूर्ति बनाकर...

भीषण अव्यवस्था का पर्याय बनते हरियाणा के सरकारी अस्पताल

हरियाणा के अस्पतालों में अव्यवस्था कम होने का नाम नहीं ले रही है। इन दिनों जब भीषण गर्मी और अन्य बीमारियों की वजह से...

Recent Comments