Thursday, June 20, 2024
30.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeIndiaसीमा और सचिन ने नहीं की पशुपति नाथ मंदिर में शादी, दोनों...

सीमा और सचिन ने नहीं की पशुपति नाथ मंदिर में शादी, दोनों के ही दावे हुए झूठे

Google News
Google News

- Advertisement -

पिछले कई दिनों से सीमा हैदर सुर्खियों में बानी हुई है। वे अपने प्यार के लिए सरहद पार कर भारत आई। उससे पुलिस लगातार पूछताछ का रही है। फिलहाल UP ATS ने सीमा को हिरासत में लिया हुआ है। ऐसे में रोजाना इस केस में नए खुलासे हो रहे है। पहले जेवर कोर्ट में सीमा हैदर ने बोला था कि उसने सचिन से नेपाल के पशुपति नाथ मंदिर में शादी की थी जिसके आधार पर उसको कोर्ट जमानत मिल गई थी।

नेपाल के पशुपति नाथ मंदिर की देख रेख करने वाले  पशुपति क्षेत्र विकास कोष के प्रवक्ता का कहना था कि नेपाल के पशुपति नाथ मंदिर में किसी भी तरीके की शादी नहीं होती है। मंदिर के भीतर या फिर प्रांगण में शादियों की इजाज़त नहीं है।

दरअसल शुरुवात से ही सचिन मीणा और सीमा हैदर यह कहते हुए आए है कि नेपाल के पशुपति नाथ मंदिर में उन दोनों ने शादी की थी। लेकिन सीमा और सचिन को झूठा साबित करते हुए पशुपति क्षेत्र विकास कोष के प्रवक्ता ने मंदिर में शादी न होने की बात कही।  वहीं नेपाल के पूर्व डिप्टी पीएम का कहना है कि भारत को सहयोग देने से हम पीछे नहीं हटेंगे। सीमा हैदर को यूपी एटीएस ने तीन दिन बाद ग्रेटर नोएडा के रबुपूरा में पेश किया।

जैसे कि आप जानते हो की सीमा हैदर से  पिछले दो दिन से यूपी एटीएस लगातार से पूछताछ कर रही है। कई सवालों में इस वक्त सीमा उलझ चुकी है। एटीएस को सीमा के जवाब संतोषजनक नहीं लग रहे हैं। एटीएस को उसके कई जवाब सोचने पर मजबूर कर रहे हैं

आपको बता दे कि सचिन मीणा और सीमा हैदर को 4 जुलाई को नोएडा से पुलिस ने गिरफ्तार किया था। पुलिस ने सचिन के पिता को भी अवैध प्रवासी को शरण देने पर जेल भेज दिया था। उसके बाद दोनों को 7 जुलाई को जमानत मिल गई, जमानत मिलने के तुरंत बाद सीमा ने अपने भारतीय प्रेमी के साथ  रहने की इच्छा जताई। साथ ही गौतमबुद्ध नगर पुलिस ने सीमा हैदर के तीन मोबाइल फोन फॉरेंसिक लैब भेजे हैं। अन्य सुरक्षा एजेंसियों और पुलिस को जांच की रिपोर्ट मिलने का इंतजार है

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

किरण चौधरी ने क्यों छोड़ा हरियाणा कांग्रेस का साथ, क्या रहे अंदरूनी कारण?

हरियाणा की राजनीती में अपनी छाप छोड़ने वाले पूर्व मुख्यमंत्री बंसी लाल की पुत्रवधु किरण चौधरी ने हरियाणा कांग्रेस का साथ छोड़ अपना रास्ता...

पाप का गुरु मन में बैठा लोभ है

प्राचीनकाल में किसी गांव में एक पंडित जी रहते थे। वह नियम धर्म के बहुत पक्के थे। किसी के हाथ का छुआ पानी तक नहीं पीते...

हरियाणा में सस्ती क्यों नहीं हो सकती एमबीबीएस की पढ़ाई?

हरियाणा सरकार ने विदेश से एमबीबीएस की डिग्री लेकर आए डॉक्टरों के लिए दो से तीन साल की इंटर्नशिप अनिवार्य कर दी है। प्रदेश...

Recent Comments