Thursday, June 20, 2024
30.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeIndia14.2 किलोग्राम का घरेलू एलपीजी सिलेंडर 200 रुपये सस्ता हुआ, रक्षा बंधन...

14.2 किलोग्राम का घरेलू एलपीजी सिलेंडर 200 रुपये सस्ता हुआ, रक्षा बंधन 30 अगस्त से कीमतों में कटौती की घोषणा

Google News
Google News

- Advertisement -

भारत सरकार ने 14.2 किलोग्राम के घरेलू LPG सिलेंडर की कीमत में 200 रुपये की कटौती की घोषणा की है। आपको बता दें कि यह कटौती 30 अगस्त से प्रभावी होगी, जो रक्षा बंधन के दिन यानी की आज से है। उपभोक्ताओं को राहत देते हुए, केंद्र सरकार ने मंगलवार को 14.2 किलोग्राम (किलो) रसोई गैस सिलेंडर की कीमत में 200 रुपये की कटौती की , इसे इस सप्ताह रक्षा बंधन से पहले महिलाओं के लिए एक उपहार बताया।
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सरकार के द्वारा ये कदम तब उठाया गया जब केंद्र सरकार बढ़ती मुद्रास्फीति और परिवारों पर इसके प्रभाव को लेकर बढ़ती आलोचना का सामना कर रही है। सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने यह कहा कि रक्षा बंधन और ओणम के मौके पर सरकार ने घरेलू सिलेंडर की कीमत 200 रुपये कम करने का फैसला किया है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि यह कटौती प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से देश की महिलाओं को एक उपहार है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि वर्तमान में, दिल्ली में 14.2 किलोग्राम LPG सिलेंडर की कीमत ₹ 1,103 है। बुधवार से प्रभावी, कीमत गिरकर ₹ 903 हो जाएगी। LPG सिलेंडर की कीमत में कटौती प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत लाभार्थियों पर भी लागू की जाएगी। PMUY के लाभार्थियों के लिए, कीमत ₹ 703 होगी। मार्च में, केंद्र ने योजना के तहत प्रति LPG सिलेंडर subsidy ₹ 200 बढ़ा दी थी।

बढ़ती मुद्रास्फीति के समय नवीनतम मूल्य कटौती उपभोक्ताओं के लिए एक स्वागत योग्य राहत होगी। जुलाई में खुदरा मुद्रास्फीति जून के 4.87% से बढ़कर 7.44% पर पहुंच गई, उपभोक्ताओं को खाद्य कीमतों में 11.5% की तेज वृद्धि का सामना करना पड़ा। यह अप्रैल 2022 के बाद से खुदरा मुद्रास्फीति की सबसे तेज़ गति है और सितंबर 2022 के बाद पहली बार कीमतें 7% बढ़ी हैं। राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय के अनुसार, जुलाई में ग्रामीण निवासियों को 7.63% की उच्च समग्र मुद्रास्फीति दर का सामना करना पड़ा। उच्च मुद्रास्फीति को लेकर केंद्र को विपक्ष की कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। एलपीजी की कीमत में कटौती पांच राज्यों में विधानसभा चुनावों और 2024 में आम चुनावों से पहले की गई है। घरेलू बजट पर इसके प्रभाव को देखते हुए रसोई गैस एक राजनीतिक रूप से संवेदनशील वस्तु है।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

हरियाणा में सस्ती क्यों नहीं हो सकती एमबीबीएस की पढ़ाई?

हरियाणा सरकार ने विदेश से एमबीबीएस की डिग्री लेकर आए डॉक्टरों के लिए दो से तीन साल की इंटर्नशिप अनिवार्य कर दी है। प्रदेश...

किरण चौधरी ने क्यों छोड़ा हरियाणा कांग्रेस का साथ, क्या रहे अंदरूनी कारण?

हरियाणा की राजनीती में अपनी छाप छोड़ने वाले पूर्व मुख्यमंत्री बंसी लाल की पुत्रवधु किरण चौधरी ने हरियाणा कांग्रेस का साथ छोड़ अपना रास्ता...

दक्षिण भारत को प्रियंका और उत्तर प्रदेश को संभालेंगे राहुल

आखिरकार राहुल गांधी ने वायनाड सीट छोड़ने और अपनी बहन प्रियंका गांधी को वायनाड से लड़ाने का फैसला कर ही लिया। इस बात की...

Recent Comments