Friday, June 14, 2024
34.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeIndia7वें दिन भी अनंतनाग में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी,...

7वें दिन भी अनंतनाग में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी, आतंकवादियों को ढूंढ़ने में हो रही परेशानी

Google News
Google News

- Advertisement -

अनंतनाग, जम्मू और कश्मीर में चल रहा आतंकवाद विरोधी अभियान Indian Army का दो दशक लंबा अभियान है। सातवें दिन भी इलाके में लगातार गोलीबारी और विस्फोट की आवाजें सुनाई दे रही हैं। इस अभियान में Indian Army को आतंकवादियों से कड़ी टक्कर मिल रही है।

अब तक इस अभियान में 10 से अधिक आतंकवादी मारे गए हैं और कई घायल हुए हैं। Indian Army ने इस अभियान के दौरान बड़ी संख्या में हथियार और गोला-बारूद भी बरामद किया है।

इस अभियान के दौरान Indian Army के दो जवान भी शहीद हो गए हैं। Indian Army ने आतंकवादियों का सफाया करने के लिए इस अभियान को जारी रखने का फैसला किया है। इस अभियान के कारण अनंतनाग जिले के कई इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया गया है और इंटरनेट सेवाएं भी बंद कर दी गई हैं। इस अभियान के कारण स्थानीय लोगों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

अनंतनाग में चल रहे आतंकवाद विरोधी अभियान का जम्मू और कश्मीर के लोगों को बेसब्री से इंतजार है। लोगों को उम्मीद है कि इस अभियान के बाद अनंतनाग में शांति स्थापित होगी और आतंकवाद का खात्मा होगा।

अनंतनाग में आतंकवाद का इतिहास

अनंतनाग जम्मू और कश्मीर के सबसे पुराने और ऐतिहासिक जिलों में से एक है। यह जिला अपनी खूबसूरत वादियों और प्राकृतिक सौंदर्य के लिए जाना जाता है। लेकिन दुर्भाग्य से यह जिला आतंकवाद से भी बुरी तरह प्रभावित है।

अनंतनाग में आतंकवाद की शुरुआत 1990 के दशक में हुई थी। उस समय आतंकवादियों ने इस जिले में कई बड़े हमलों को अंजाम दिया था। इन हमलों में कई निर्दोष लोग मारे गए थे।

Indian Army ने अनंतनाग में आतंकवाद को खत्म करने के लिए कई अभियान चलाए हैं। लेकिन अब भी इस जिले में आतंकवादियों की सक्रियता देखी जाती है।

अनंतनाग में चल रहे आतंकवाद विरोधी अभियान का महत्व

अनंतनाग में चल रहे आतंकवाद विरोधी अभियान का बहुत महत्व है। इस अभियान के सफल होने के बाद अनंतनाग में शांति स्थापित होगी और आतंकवाद का खात्मा होगा। इस अभियान के सफल होने से जम्मू और कश्मीर के अन्य जिलों में भी शांति स्थापित करने में मदद मिलेगी। इस अभियान के सफल होने से जम्मू और कश्मीर में पर्यटन को बढ़ावा देने में भी मदद मिलेगी।

अनंतनाग में चल रहे आतंकवाद विरोधी अभियान की चुनौतियाँ

अनंतनाग में चल रहे आतंकवाद विरोधी अभियान में Indian Army को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। आतंकवादी स्थानीय लोगों की आड़ में छिपकर Indian Army पर हमले करते हैं। इससे Indian Army को आतंकवादियों को मार गिराने में मुश्किल होती है।

आतंकवादियों के पास आधुनिक हथियार और गोला-बारूद है। इससे Indian Army को आतंकवादियों से कड़ी टक्कर मिल रही है। आतंकवादियों को स्थानीय लोगों का समर्थन प्राप्त है। इससे Indian Army को आतंकवादियों की जानकारी जुटाने में मुश्किल होती है। अनंतनाग में चल रहे आतंकवाद विरोधी अभियान की सफलता के लिए सुझाव

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

Recent Comments