Sunday, June 16, 2024
45.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeIndiaRajastahan CM : मुख्यमंत्री की रेस में कैसे आगे निकले भजनलाल शर्मा?

Rajastahan CM : मुख्यमंत्री की रेस में कैसे आगे निकले भजनलाल शर्मा?

Google News
Google News

- Advertisement -

Rajastahan CM: छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश के बाद राजस्थान में भी मुख्यमंत्री के नाम का ऐलान हो चुका है। पहले के दो राज्यों की तरह ही भारतीय जनता पार्टी ने यहां भी मुख्यमंत्री के नाम को लेकर चौंकाया। पार्टी ने पहली बार विधायक बने भजनलाल शर्मा (Bhajanlal Sharma) को मुख्यमंत्री बनाया है।

भजनलाल शर्मा सांगनेर सीट से पहली बार चुनकर विधानसभा पहुंचे हैं। मंगलवार को जयपुर में हुई विधायक दल की बैठक में उनके नाम पर मुहर लगी।

Rajastahan CM: कैसे दिग्गजों से आगे निकले भजनलाल?

बताया जाता है कि सांगानेर से विधायक बने भजनलाल शर्मा (Bhajanlal Sharma) की संगठन में मजबूत पकड़ है। वे चार बार राजस्थान में प्रदेश संगठन महामंत्री बन चुके हैं। फिलहाल भी वह संगठन में सक्रिय है।

2023 के चुनाव में भाजपा ने पहली बार उन्हें जयपुर की सांगनेर सीट से चुनाव लड़ाया। माना जाता है कि यह बीजेपी के लिए सुरक्षित सीट है। इस सीट पर भजनलाल शर्मा (Bhajanlal Sharma) को लड़ाने के लिए भाजपा ने निवर्तमान विधायक अशोक लाहोटी का टिकट काट दिया था।

माना जा रहा है कि भजनलाल शर्मा को संगठन में काम करने का इनाम मिला है। उन्होंने विधानसभा चुनाव के दौरान जमकर मेहनत की थी।

दिग्गज नाम थे सीएम की रेस में?

राजस्थान के लिए मुख्यमंत्री (Rajastahan CM) की रेस में दिग्गज नेता वसुंधरा राजे, केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल, गजेंद्र सिंह शेखावत और अश्विनी वैष्णव जैसे नाम चल रहे थे। हालांकि, इन सब को पीछे छोड़कर भजनलाल शर्मा प्रदेश के मुख्यमंत्री बने हैं।

भजनलाल शर्मा (Bhajanlal Sharma) प्रदेश में भाजपा का ब्राह्मण चेहरा होंगे। बता दें कि राजस्थान में 200 में से 199 सीट के लिए हुए चुनाव के परिणाम तीन दिसंबर को घोषित किए गए थे। बीजेपी को 115 सीट पर जीत के साथ बहुमत मिला है।

RSS- ABVP से रहा है जुड़ाव?

भजनलाल शर्मा लंबे समय तक संगठन में सक्रिय रहे हैं। वह राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में भी सक्रिय रहे हैं। वह लगातार लाइमलाइट से दूर रहकर संगठन में काम करते रहे हैं।

2008 में वह निर्दलीय चुनाव मैदान में उतरे, लेकिन इस बार भाजपा ने खुद सांगानेर सीट खाली कराकर उन्हें चुनाव मैदान में उतारा। वह सबसे ज्यादा चर्चा में तब रहे थे तब एक सभा में वह पीएम मोदी के साथ गुफ्तगू करते नजर आए थे।

कहां के रहने वाले हैं भजनलाल शर्मा?

राजस्थान में मुख्यमंत्री (Rajastahan CM) फेस घोषित किए गए भजनलाल शर्मा भरतपुर के रहने वाले हैं। 56 वर्षीय भजनलाल के पिता का नाम किशन स्वरूप शर्मा हैं। उनका मतदाता पहचान पत्र उनके आवास भरतपुर में ही रजिस्टर्ड है। एडीआर की रिपोर्ट में उनका पेशा बिजनेस बनाया गया है।

चुनाव से पहले ही किया था भाजपा की जीत का ऐलान

भजनलाल ने प्रदेश महामंत्री के तौर पर अप्रैल में ही राजस्थान में भाजपा की जीत का ऐलान कर दिया था। उन्होंने कहा था कि भाजपा कांग्रेस की तरह चुनावी वर्ष का इंतजार नहीं करती। भाजपा फिजिकल और वर्चुअल तौर पर कार्यकर्ताओं से जुड़ी रहती है।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

मां से बढ़कर दूसरा कोई सहनशील नहीं

स्वामी विवेकानंद ने शिकागो जाकर भारतीय धर्म और दर्शन का जो झंडा फहराया, उससे भारतवासियों को काफी गर्वानुभूति हुई। यूरोप और अमेरिका से लोग आकर...

हरियाणा में बढ़ती बेरोजगारी और आईटीआई में बंद होते कई ट्रेड्स

हरियाणा के लिए सबसे बड़ी समस्या बेरोजगारी है। बेरोजगारी इतनी कि वह राष्ट्रीय औसत से कहीं ज्यादा है। प्रदेश सरकार इस बात से इत्तफाक...

अयोध्या से सीखने होंगे लोकतंत्र के सबक

फैजाबाद लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी लल्लू सिंह के हारने के बाद सोशल मीडिया से लेकर अन्य मंचों पर वहां मतदाताओं की जो लानत...

Recent Comments