Tuesday, April 23, 2024
35.7 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeLATESTShani Dosh Upay : शनि दोष से बचने के लिए करें ये...

Shani Dosh Upay : शनि दोष से बचने के लिए करें ये उपाय, सदैव बनी रहेगी शनिदेव की कृपा

Google News
Google News

- Advertisement -

Shani Dosh Upay : ज्योतिष शास्त्र के अनुसार भगवान सूर्य और छाया के पुत्र, यमराज के बड़े भाई शनिदेव को ग्रहों में न्यायाधीश का पद प्राप्त है। शनिदेव को भगवान शिव ने नवग्रहों में न्यायाधीश का कार्य सौंपा है। यही कारण है कि पूरा संसार शनिदेव से डरता है। ऐसा कहा जाता है कि अगर शनिदेव की नजर किसी पर पड़ जाए तो वह कहीं का नहीं रहता। शनिदेव की पत्नी के श्राप के कारण शनि की दृष्टि जिस किसी पर पड़ जाती है वह नष्ट हो जाता है। शनि की कुदृष्टि के कारण ही भगवान राम को वनवास और रावण का वध हुआ तथा पांडवों को वनवास हुआ। इसलिए आज हम आपको बताएंगे शनि की तिरछी नजर से बचने के लिए कुछ ऐसे उपाय जिससे शनिदेव की कृपा आप पर सदैव बनी रहेगी।

Shani Dosh Upay

इन उपायों से बनी रहेगी शनि की कृपा दृष्टि

  • शनिवार को शनिदेव के मंदिर में जाकर सरसों के तेल का दीपक जलाएं। आर्थिक समृद्धि के लिए शनिवार के दिन गेहूं में कुछ चने मिलाकर पिसवाएं और इसका सेवन करें या आप इसका दान भी कर सकते हैं।
  • शनिवार को पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं। इसके साथ ही दीपक में कुछ काले तिल और एक रुपये का सिक्का डाल दें इससे शनि दोष से छुटकारा मिलेगा।
  • घर में सुख-शांति बनाए रखने के लिए शनि यंत्र की स्थापना घर में करें और प्रतिदिन उसकी विधिवत पूजा करें।
Shani Dev

यह भी पढ़ें : Amarnath Yatra 2024 : 29 जून से अमरनाथ यात्रा की शुरुआत, केवल 45 दिन की होगी यात्रा

  • शनिवार के दिन शनिदेव की कृपा पाने के लिए उन्हें नीले फूल चढ़ाएं और ‘ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः’ मंत्र का जाप करें. ऐसा करना बेहद लाभकारी माना जाता है। इसलिए आप शनिवार के दिन इस मंत्र का जाप 108 बार कर सकते हैं।
  • धन संबंधी समस्याओं से छुटकारा पाने के साथ ही साढ़ेसाती और ढैय्या को कम करने के लिए शनिवार के दिन पीपल के पेड़ की जड़ में जल चढ़ाना शुभ रहेगा।
  • शनिदेव के अशुभ प्रभाव से बचने के लिए आटे में थोड़ी मात्रा में चीनी मिलाकर चींटियों को खिलाएं।

(डिस्क्लेमर : इस आलेख में दी गई किसी भी जानकारी विभिन्न माध्यमों/मान्यताओं के द्वारा ये जानकारी प्रस्तुत की गई है। जिसका उद्देश्य केवल सूचना पहुंचाना है। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें।)

अधिक जानकारी के लिए जुड़े रहें : https://deshrojana.com/

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

Recent Comments