Saturday, June 22, 2024
31.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeLATESTChina Space Station : सामने आई चीनी स्‍पेस स्‍टेशन की तस्‍वीर, क्या...

China Space Station : सामने आई चीनी स्‍पेस स्‍टेशन की तस्‍वीर, क्या है खास

Google News
Google News

- Advertisement -

स्पेस में भी चीन का दबदबा बढ़ रहा है। अपने डिफेंस सिस्टम को मजबूत करने वाले चीन ने अब स्पेस में मौजूदगी दर्ज करानी शुरू कर दी है। चीन काफी समय से अपना स्पेस स्टेशन बना रहा है। अब चीन का स्‍पेस स्‍टेशन (China Space Station) पूरी तरह से ऑपरेशनल हो गया है।

कहां स्पॉट हुआ चीन का स्पेस स्टेशन

पहली बार चीन के स्पेस स्टेशन (China Space Station) की पूरी तस्वीर सामने आई है। चीन के तियांगोंग स्‍पेस स्टेशन (Tiangong space station) की पूरी संरचना दिखाई दे रही है। एक रिपोर्ट के अनुसार, चीन के शेनझोउ 16 मिशन के क्रू ने पृथ्‍वी पर लौटते समय इस स्‍पेस स्‍टेशन की शानदार तस्‍वीरें लीं। एचडी कैमरे से ली गई तस्‍वीरों में देखा जा सकता है कि चीन अब अंतरिक्ष की दुनिया में कितना आगे निकल गया है। उसने अपने दम पर स्‍पेस स्‍टेशन को बनाया है, जो इंटरनेशनल स्‍पेस स्‍टेशन (ISS) से मुकाबला करता है।

किसने ली है स्पेस स्टेशन की तस्वीर

चीन के स्पेस स्टेशन की तस्वीर की खबर स्पेसडॉटकॉम ने दी है। स्‍पेसडॉटकॉम की रिपोर्ट के मुताबिक शेनझोउ 16 टीम ने 26 अक्‍टूबर को चीनी स्‍पेस स्‍टेशन का कंट्रोल शेनझोउ 17 क्रू के हाथ में सौंपा था। इसमें तीन चीनी अंतरिक्ष यात्री पृथ्‍वी के लिए रवाना हुए थे। उनमें कमांडर जिंग हैपेंग, झू यांगझू और गुई हाइचाओ शामिल थे। उसी टीम ने चीनी स्‍पेस स्‍टेशन की तस्‍वीरें ली हैं।

कहां चक्कर लगा रहा है चीनी स्पेस स्टेशन

रिपोर्ट के अनुसार, चीन का स्‍पेस स्‍टेशन पृथ्‍वी से 340 से 450 किलोमीटर की ऊंचाई पर है।

बता दें कि 2021 में पहली बार तियांगोंग स्‍पेस स्‍टेशन पर अंतरिक्ष यात्रियों का एक दल पहुंचा था। इसने वहां 90 दिन बिताए थे। हालांकि तब स्‍पेस स्‍टेशन का पहला भाग पूरा हुआ था। स्‍पेस स्‍टेशन की दूसरी और तीसरी यूनिट्स को पिछले साल और इस साल लॉन्‍च किया गया है।

कैसा है चीन का स्पेस स्टेशन

तियांगोंग स्‍पेस स्टेशन एक 55 मीटर लंबा स्‍टेशन है। इसका वजन 77 टन है। यह अमेरिका और रूस के दबदबे वाले इंटरनेशनल स्‍पेस स्‍टेशन से 20 फीसदी बड़ा है। इस स्‍पेस स्‍टेशन पर भी कई प्रयोग किए जा रहे हैं। चीन की अंतरिक्ष एजेंसी कम से कम एक दशक तक इस स्‍पेस स्‍टेशन को ऑपरेट करना चाहती है।

अमेरिका को चुनौती देने का प्लान

अपना स्‍पेस स्‍टेशन बनाकर चीन ने अमेरिका का चुनौती दी है। साथ ही उसने स्पेस मे दबदबा रखने वाले अन्य देशों को भी अपना दम दिखाया है।

बता दें कि इंटरनेशनल स्‍पेस स्‍टेशन में चीन को भागीदार नहीं बनाया गया था। इसके बाद उसने अपना स्‍पेस स्‍टेशन बनाने का निर्णय किया। आखिरकार उसने अपने सपने को पूरा कर लिया है।

कब बनकर तैयार होगा भारत का स्पेस स्टेशन

चंद्रयान-3 की सफलता के बाद भारत सूर्य तक अपनी पहुंच बना रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसरो (ISRO) को 2035 तक भारतीय अंतरिक्ष स्टेशन बनाने का लक्ष्य दिया है। इसरो ने पीएम मोदी को बताया है कि भारत का अपना स्पेस स्टेशन 2035 तक बन जाएगा।

भारत का स्पेस स्टेशन, अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (ISS) से छोटा होगा। यह एक कॉमर्शियल स्पेस स्टेशन होगा। अगर भारत चाहे, तो अमेरिका और नासा उसकी मदद के लिए तैयार हैं।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

महात्मा बुद्ध ने समझाया, शरीर नश्वर है

जब कोई व्यक्ति अपने आराध्य के गुणों, कार्यों और वचनों को याद रखने, उनके बताए गए मार्ग का अनुसरण करने की जगह मूर्ति बनाकर...

जदयू सांसद ने कहीं पैरों पर कुल्हाड़ी तो नहीं मार ली!

जदयू सांसद देवेश चंद्र ठाकुर का मुस्लिम और यादवों को लेकर दिए गए बयान का असर बिहार की राजनीति में बहुत दिनों तक...

भीषण अव्यवस्था का पर्याय बनते हरियाणा के सरकारी अस्पताल

हरियाणा के अस्पतालों में अव्यवस्था कम होने का नाम नहीं ले रही है। इन दिनों जब भीषण गर्मी और अन्य बीमारियों की वजह से...

Recent Comments