Friday, May 24, 2024
32.9 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeIndiaभारत तोड़ो की राजनीति तुरंत बंद करे कांग्रेस पार्टी : प्रमोद सावंत

भारत तोड़ो की राजनीति तुरंत बंद करे कांग्रेस पार्टी : प्रमोद सावंत

Google News
Google News

- Advertisement -

पणजी/नई दिल्ली, 23 अप्रैल- कांग्रेस नेता विरियाटो फर्नांडीस के गोवा पर भारतीय संविधान थोपने संबंधी बयान पर राज्य के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने भयावह करार देते हुए निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि मैं इस तरह के गैरजिम्मेदाराना बयान से स्तब्ध हूं। कांग्रेस को भारत तोड़ो राजनीति को तुरंत बंद करना चाहिए।

गोवा के मुख्यमंत्री और लोकसभा चुनाव में भाजपा के स्टार प्रचारक प्रमोद सावंत ने सोशल मीडिया मंच एक्स पर फर्नांडीस के चुनावी सभा में भारतीय संविधान को लेकर टिप्पणी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मैं कांग्रेस के दक्षिण गोवा उम्मीदवार की टिप्पणियों से स्तब्ध हूं, जिसमें दावा किया गया है कि भारतीय संविधान को गोवावासियों पर जबरदस्ती थोपा गया है। हमारे स्वतंत्रता सेनानियों का पूरे दिल से मानना था कि गोवा भारत का अभिन्न अंग है। कांग्रेस ने गोवा की मुक्ति में 14 वर्ष की देरी की। अब, उनके उम्मीदवार ने भारतीय संविधान को कमजोर करने की हिम्मत की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस को इस लापरवाह भारत तोड़ो राजनीति को तुरंत बंद करना चाहिए। कांग्रेस हमारे लोकतंत्र के लिए खतरा है।

यह भी पढ़ें : बुढ़ापे में अकेले रहने को अभिशप्त मां-बाप

गौरतलब है कि विरियाटो फर्नांडीस दक्षिण गोवा से कांग्रेस के लोक सभा उम्मीदवार हैं। सोमवार को एक चुनावी सभी को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा था कि वर्ष 1961 में पुर्तगाली शासन से आजादी के बाद गोवा पर भारतीय संविधान थोपा गया था। इस दौरान फर्नांडीस ने पिछले लोकसभा के दौरान राहुल गांधी के साथ अपनी बातचीत का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि मैंने 2019 लोकसभा चुनाव के दौरान उनके सामने भी इस मुद्दे को उठाया था।

लेटेस्ट खबरों के लिए क्लिक करें : https://deshrojana.com/

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

Vikramaditya on Kangana : विक्रमादित्य सिंह ने कंगना के खिलाफ EC में की शिकायत, भेजा मानहानि का नोटिस

हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) की मंडी लोकसभा सीट (Mandi loksabha seat) इन दिनों सुर्खियों में बनी हुई है कांग्रेस से विक्रमादित्य सिंह (Vikramaditya Singh)...

वफादार और कर्मठ नेताओं के हक पर डाका डालते दलबदलू नेता

चुनाव...चुनाव...चुनाव। जहां भी चार आदमी जुटते हैं, वहीं चुनाव पर चर्चा शुरू हो जाती है। आफिसों में, चाय के ठेलों पर, घरों में यानी...

संत दादू दयाल से प्रभावित हुआ अकबर

संत दादू दयाल का जन्म गुजरात के अहमदाबाद में सन 1544 को हुआ था। संत दादू दयाल बचपन से ही काफी दयालु किस्म के थे। यही...

Recent Comments