Thursday, June 20, 2024
39.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeHARYANAनूंह में केवल 11 लोगो को ही जल अभिषेक में जाने कि...

नूंह में केवल 11 लोगो को ही जल अभिषेक में जाने कि परमिशन आज 4 बजे तक बाहरी लोगो के लिए No Entry

Google News
Google News

- Advertisement -

हरियाणा के नूंह में विश्व हिंदू परिषद, सर्व जातीय हिंदू महापंचायत और बजरंग दल के आह्वान पर हिंदू संगठन के लोग आज दोबारा ब्रजमंडल यात्रा निकालने पर अड़े हैं। आपको बता दें की हरियाणा सरकार और नूंह जिला प्रशासन ने इस यात्रा के लिए परमिशन नहीं दी थी।

प्रशासन का ऐसा कहना है की उन्होंने सोमवार को नलहरेश्वर मंदिर में जलाभिषेक के लिए साधु-संतो और विश्व हिंदू परिषद के लोगों को परमिशन दी। इसके बाद पुलिस नूंह बाइपास से पुलिस 3 गाड़ियों से 51 लोगों को नलहरेश्वर मंदिर के लिए लेकर निकली। जिन्होंने पटौदी आश्रम के महामंडलेश्वर स्वामी धर्मदेव और विश्व हिंदू परिषद के आलोक कुमार राय की मौजूदगी में जलाभिषेक किया। और फिर इसके बाद 11 लोगो को सोभा यात्रा में शामिल होने की परमिशन दे दी गई थी। आपको बता दें की नूंह में इस वक्त लोगो के आवाजाहि पर रोक लगा दी गई है। लोकल इंटेलिजेंस यूनिट के एक अधिकारी ने यह बताया कि हमें यह जानकारी मिली है कि मंदिर के आसपास के इलाकों में हिंसा की तैयारी की गई है।

इस कारण से 4 बजे तक किसी बाहरी व्यक्ति को मंदिर में जाने इजाजत नहीं है। इस समय केवल स्थानीय लोगों को आईडी देखने के बाद ही मंदिर में जाने की अनुमति दी जा रही है। जिन श्रद्धालुओं को नलहरेश्वर मंदिर में जलाभिषेक की इजाजत दी गई थी, वे जल चढ़ाकर फिरोजपुर झिरका के लिए निकल गए हैं। नूंह यात्रा में हिस्सा लेने अयोध्या से आए संत जगद्गुरु परमहंस आचार्य महाराज को प्रशासन ने गुरुग्राम सोहना टोल प्लाजा पर रोक दिया। इस कार्रवाई के विरोध में उन्होंने प्लाजा के पास ही अनशन देना शुरू कर कर दिया। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि 31 जुलाई को ब्रजमंडल यात्रा के दौरान नूंह ने हिंसा हुई थी। जिसमें 2 होमगार्ड समेत 6 लोगों की मौत हो गई थी।

नूंह ब्रजमंडल यात्रा कि जानकारी

हरियाणा पुलिस ने नूंह में सुरक्षा के पुख्ता प्रबंधों का दावा किया है। वहीं संवेदनशील इलाकों पर ड्रोन से नजर रखी जा रही है। जिले की सारी सीमाएं 27 अगस्त से ही सील की जा चुकी हैं। हरियाणा से लगने वाली दिल्ली, राजस्थान और UP बॉर्डर को भी सील हैं।

जिले की सीमाओं पर भारी संख्या में पुलिसकर्मी और पैरामिलिट्री के जवान तैनात कर दिए गए हैं जो आने-जाने वाली सभी गाड़ियों की तलाशी ले रहे हैं। वहीं, नूंह के स्कूल-कॉलेज, बैंक और दूसरे तमाम ऑफिस भी बंद करवा दिए गए हैं। सरकार के द्वारा मोबाइल इंटरनेट और बल्क SMS सेवाओं पर भी आज रात 12 बजे तक के लिए बैन लगा रखा है।

इस बार मुस्लिम समुदाय भी सावधानी बरत रहा है। रविवार को ही जिले के गांवों में मस्जिदों से अनाउंसमेंट कराई गई कि सोमवार को यात्रा के होने के कारण से मुस्लिम समुदाय के लोग अपने घरों से बाहर न निकलें। इसके साथ ही गांवों में भी किसी जगह 4 से अधिक लोग इकट्ठे न हों। कोई भी व्यक्ति अपने गांव से बाहर न जाए।

संगठन के सुरेंद्र प्रताप आर्य और योगेश हिलालपुरिया, जिन्हें प्रशासन ने मंदिर जाने की परमिशन दी है, उन्हें रविवार रात को ही गिरफ्तार कर लिया था। इसके साथ ही सोनीपत में धारा 144 लगाई गई है। फरीदाबाद में भारी वाहनों की नो एंट्री की गई है। पूरे शहर में नाकाबंदी की गई है।

- Advertisement -
RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

आ गया Motorola Edge 50 Ultra , दमदार फीचर्स जानकर उड़ जाएंगे होश

भारतीय बाज़ारों में Motorola Edge 50 Ultra लॉन्च हो गया है स्मार्टफोन (Smartphone) के दीवानों के लिए ये सबसे बढ़िया ऑप्शन साबित हो सकता...

पाप का गुरु मन में बैठा लोभ है

प्राचीनकाल में किसी गांव में एक पंडित जी रहते थे। वह नियम धर्म के बहुत पक्के थे। किसी के हाथ का छुआ पानी तक नहीं पीते...

किरण चौधरी ने क्यों छोड़ा हरियाणा कांग्रेस का साथ, क्या रहे अंदरूनी कारण?

हरियाणा की राजनीती में अपनी छाप छोड़ने वाले पूर्व मुख्यमंत्री बंसी लाल की पुत्रवधु किरण चौधरी ने हरियाणा कांग्रेस का साथ छोड़ अपना रास्ता...

Recent Comments