Thursday, May 23, 2024
33.1 C
Faridabad
इपेपर

रेडियो

No menu items!
HomeEDITORIAL News in Hindiयुवक ने पढ़ा आत्मनिर्भरता का पाठ

युवक ने पढ़ा आत्मनिर्भरता का पाठ

Google News
Google News

- Advertisement -

आत्मनिर्भर आदमी किसी भी परिस्थिति में हार नहीं मानता है। यदि किसी व्यक्ति को मांगकर खाने की लत लग गई, तो वह हमेशा श्रम करने से कतराएगा। दान पर निर्भर रहने वाले लोगों का जीवन स्तर हमेशा दयनीय ही रहता है। वे जीवन स्तर को ऊंचा उठाने की दिशा में प्रयत्न ही नहीं करते हैं। जीवन किसी तरह बीत रहा है, उनके लिए बस यही काफी है। लेकिन जो परिश्रमी है, स्वाभिमानी है, वह कभी दान पर निर्भर रहना पसंद नहीं करेगा। इस संदर्भ में एक प्रेरक प्रसंग है। एथेंस के महान दार्शनिक जीनो लोगों को दर्शनशास्त्र पढ़ाया करते थे।

वैसे जीनो के बारे में बहुत ज्यादा जानकारी नहीं मिलती है। एथेंस के महान दार्शनिक सुकरात, प्लेटो, अरस्तू की तरह उनके बारे में ज्यादा जानकारी उपलब्ध नहीं है शायद। जीनो लोगों को अपने दार्शनिक विचारों से अवगत करवाते थे, लेकिन उसकी वे कीमत वसूलते थे। एथेंस में ही एक युवक था, जो जीनो से दर्शनशास्त्र पढ़ना चाहता था, लेकिन उसके पास फीस चुकाने के पैसे नहीं थे। उसने पढ़ने के लिए एक अमीर आदमी के यहां नौकरी कर ली और जो कुछ मिलता, वह जीनो को समर्पित कर देता। वह पढ़ने में तेज था।

यह भी पढ़ें : रमण महर्षि ने समझाई जीवन की उपयोगिता

इसलिए दूसरे लोगों की आंख में खटकने लगा। लोगों ने उस पर चोरी का इल्जाम लगा दिया। जब मामला न्यायालय में पहुंचा, तो उसने चोरी से इनकार करते हुए उस अमीर को गवाह के रूप में बुलाया जिसके यहां काम करता था। उसके आत्मसम्मान को देखकर न्यायाधीश बहुत खुश हुआ और उसने अपनी तरफ से शुल्क अदा करने का प्रस्ताव रखा। युवक ने प्रस्ताव को अस्वीकार करते हुए कहा कि मैं अपनी मेहनत की कमाई से शुल्क अदा करना चाहता हूं। जीनो ने भी हंसते हुए कहा कि मैं चाहता हूं कि आप इसे आत्मनिर्भरता का पाठ पढ़ने दें।

Ashok Mishra

-अशोक मिश्र

लेटेस्ट खबरों के लिए क्लिक करें : https://deshrojana.com/

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

RELATED ARTICLES
Desh Rojana News

Most Popular

Must Read

अब तो चुनाव को लेकर बदलने लगा मतदाताओं का मिजाज

लोकसभा चुनाव का परिदृश्य ही इस बार बदला हुआ नजर आ रहा है। लग ही नहीं रहा है कि यह लोकसभा चुनाव का माहौल...

कभी खाई है लौकी की खीर, स्वाद के आगे भूल जाएंगे सब कुछ

मीठे के दीवाने कई लोग है लेकिन रोज-रोज आप एक ही तरह का मीठा नहीं खा सकते इसलिए बदल -बदल कर क्या बनाए ये...

राष्ट्रपति रईसी की मौत पर ईरान में खुशी भी, गम भी

ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी की हेलिकॉप्टर दुर्घटना में हुई मौत के बाद दो तरह की प्रतिक्रियाएं व्यक्त की जा रही हैं। ईरान और...

Recent Comments